Politics

गृह मंत्री अमित शाह ने हरीश रावत को लेकर दिया विवादित बयान, देखें वीडियो…

Amit Shah Harish Rawat
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Amit Shah Harish Rawat : उत्तराखंड (Uttarakhand Assembly Election) में 14 फरवरी को वोटिंग होने वाली है। चुनाव से पहले सभी पार्टियां एक दूसरे पर पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। एक चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह (HM Amit Shah) ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत (Harish Rawat) का जिक्र अपने भाषण में किया तो अब इस पर विवाद खड़ा हो गया है। खुद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत ने पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह समेत बीजेपी के तमाम नेताओं को जवाब दिया है।

दरअसल एक सभा को संबोधित करने के दौरान अमित शाह ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा था कि ‘बेचारे हरीश रावत को नेता बनाएंगे… नहीं बनाएंगे.. टिकट देंगे.. नहीं देंगे… यहां से देंगे… वहां से देंगे. धोबी का… आगे नहीं बोलना चाहता, न घर का न घाट का। मुख्यमंत्री किसको बनाएंगे, यह घोषित भी नहीं किया और बेचारे जहां से लड़ना चाहते थे वहां से लड़ने भी नहीं दिया।

यह भी पढ़ें -: CAA प्रदर्शनकारियों को वसूली नोटिस पर SC की योगी सरकार को दो टूक- इन्‍हें रोकें वरना हम रद्द कर देंगे

अमित शाह के इस बयान के पर सोशल मीडिया पर लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। नवीन शाही नाम के यूजर ने लिखा कि कल एक मुख्यमंत्री और आज देश के गृह मंत्री की ऐसी घटिया टिप्पणी। आरएसएस-बीजेपी का डीएनए ही खराब है। जब प्रधानमंत्री खुद ही “कांग्रेस की विधवा”, “पचास करोड़ की गर्लफ्रेंड”, “रेन कोट पहन कर नहाना” जैसे सैकड़ों घटिया बातें खुद बोलते हों तो इनसे यही उम्मीद है।

सुनील कुमार द्विवेदी नाम के यूजर ने लिखा कि ‘खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे’ वाली कहानी हो गई है। कैप्टन नाम के यूजर ने लिखा कि इन लोगों का अहंकार सत्ता के साथ ही जायेगा। इन्हें पद की गरिमा की कोई परवाह नहीं। तरुण शर्मा नाम के यूजर ने कहा कि भाषा की बात वह कर रहे हैं जो देश के प्रधानमंत्री को मौत का सौदागर कहते रहे हैं।

जय नाम के यूजर ने लिखा कि शाह से आप अच्छी भाषा की उम्मीद करते हो? ऐ, ओये करते रहते हैं। वैसे कमी कांग्रेस में ही है। गुजरात में यही बात अगर मोदी या शाह के बारे में बोल दी जाती तो इसको गुजरातियों का अपमान, गुजरात पर हमला और ना जाने क्या क्या बोलकर अपने पक्ष में माहौल बनाया जाता। कांग्रेस से कुछ नहीं होता।

बता दें कि अमित शाह के इस बयान पर कांग्रेस ने विरोध जताया है। कांग्रेस का कहना है कि गृह मंत्री को अपने इस बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए। वहीं हरीश रावत ने जवाब देते हुए कहा कि मैं वहीं हूं, जो शाह ने कहा है। बस उन्होंने कुत्ता शब्द नहीं बोला। तो मैं बता देता हूं कि उत्तराखंड के लिए मैं भौकूंगा भी और जरूरत पड़ी तो काटूंगा भी।

यह भी पढ़ें -: BJP को वोट के लिए याद आए जनरल बिपिन रावत, यशवंत सिन्हा बोले- यह राजनीति का…

यह भी पढ़ें -: लोकतंत्र का सबसे बड़ा ख़तरा पैसावाद है, पैसा किसका है प्रधानमंत्री नहीं बताएंगे : रवीश कुमार

सोर्स – jansatta.com. Amit Shah Harish Rawat


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-