India

HC की फटकार के बाद कब्र से निकाला गया अल्ताफ का शव, पुलिस हिरासत में मौत का मामला

altaf-dead-body-removed-from-the-grave-in-kasganj
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

कासगंज पुलिस की हिरासत में अल्ताफ की मौत के मामले में उच्च न्यायालय के आदेश पर उसका शव कब्र खोदकर बाहर निकलवाया। यह कार्रवाई मजिस्ट्रेट व चिकित्सकों की टीम के साथ की गई। पुलिस अधीक्षक एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे, अपर पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार मौजूद रहे। शव कब्र से निकालने के बाद उसे सील कर सरकारी एंबुलेंस से चिकित्सकों की टीम और जांच अधिकारी दिल्ली एम्स के लिए रवाना हो गए।

इलाहाबाद उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने अहरौली निवासी अल्ताफ के पिता चांदमियां की याचिका पर एसपी कासगंज को मृतक के शव का दोबारा पोस्टमार्टम कराने के निर्देश दिए थे। पूरी कार्रवाई के बारे में भी दिशा-निर्देश निर्धारित किए। अल्ताफ के परिवार की मौजूदगी में पुलिस ने कार्रवाई की। कब्र से शव निकलवाने के लिए मजिस्ट्रेट के रूप में एसडीएम अभिनव द्विवेदी को तैनात किया गया।

यह भी पढ़ें -: सर्जिकल स्ट्राइक पर कुछ ऐसा बोल गए KCR कि भड़क उठी BJP, बोली- देशद्रोही हैं तेलंगाना के CM

चिकित्सीय टीम के डॉ. आकाश एवं डॉ. दिनेश की मौजूदगी रही। वीडियोग्राफी कराई गई। कब्र खोदने के बाद अल्ताफ का शव निकाला गया। इसके बाद शव को सील करके ताबूत में रखा गया। चिकित्सकों की टीम, विवेचक सीओ आरके तिवारी एंबुलेंस से शव लेकर एम्स के लिए रवाना हो गए। दिल्ली एम्स में चिकित्सकों का पैनल शव का पोस्टमार्टम करेगा।

कोतवाली पुलिस की हिरासत में 9 नवंबर 2021 को 20 वर्षीय युवक अल्ताफ की मौत हुई थी। पुलिस का कहना था कि अल्ताफ ने हवालात के टायलेट में टंकी के पाइप पर जैकेट की डोरी से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली, लेकिन पुलिस की यह थ्योरी परिवार के गले नहीं उतरी। उन्होंने पुलिस पर हत्या करने का आरोप लगाया।

यह भी पढ़ें -: BJP सांसद बोले- ओवैसी हमारा मित्र है, वह पुराना क्षत्रिय है और भगवान राम का वंशज है

अल्ताफ के शव को कब्र से बाहर निकालने की कार्रवाई के दौरान परिवार की ओर से पांच लोग मौजूद रहे। जिसमें पिता चांद मियां, दानिश, इरफान, दिलशाद एवं आजाद समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष विशाल शामिल हैं।

अल्ताफ की मौत के बाद इस मामले में जमकर राजनीति हुई। समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, कांग्रेस, आजाद समाज पार्टी के नेता यहां आए और अल्ताफ के घर पहुंचे। योगी सरकार और पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए। इन दिनों चुनावी रैलियों में भी अलग अलग राजनीतिक दल अल्ताफ की मौत के मामले का जिक्र कर रहे हैं।

एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे ने बताया कि उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार अल्ताफ के शव को कब्र से निकालकर दोबारा पोस्टमार्टम के लिए एम्स भेजा गया है। चिकित्सकों की टीम व विवेचक सीओ शव लेकर रवाना हो गए।

यह भी पढ़ें -: UP मैं फर्जी वोटिंग का आरोप लगाते हुए BJP प्रत्याशी धरने पर बैठे, वीडियो हुवा वायरल

यह भी पढ़ें -: शाहजहांपुर में सपा के पोलिंग एजेंट की गोली मारकर हत्या, गांव में तनाव की स्थिति

सोर्स – amarujala.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-