Politics

स्मृति ईरानी के छिना कपड़ा मंत्रालय तो अलका लांबा तंज कसते हुवे बोलीं – अब साड़ी के बिल कौन चुकाएगा

alka-lamba-has-taken-a-jibe-at-smriti-irani
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में बुधवार को विस्तार हो चुका है। पीएम मोदी की कैबिनेट में 44 नेताओं को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। इस मंत्रिमंडल विस्तार में कई मंत्रियों को छुट्टी दे दी गई, वहीं उनकी जगह पर नए चेहरे को वरीयता दी गई। ऐसे में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से कपड़ा मंत्रालय वापस ले लिया गया है। उनके पास अब सिर्फ महिला एवं बाल विकास मंत्रालय रह गया है। मोदी सरकार द्वारा मंत्रिमंडल में किए गए इस बदलाव पर विपक्ष जमकर मजे ले रहा है। कांग्रेस प्रवक्ता अलका लांबा भी लगातार ट्वीट के जरिए मोदी सरकार पर निशाना साध रही है।

इस बार उन्होंने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि चलिए अब ईरानी अपना पूरा ध्यान महिला एवं बाल विकास पर लगा पाएंगी और टेक्सटाइल मंत्रालय को मंत्री जी की साड़ियों के बिल नहीं चुकाने पड़ेंगे। आगे उन्होंने लिखा कि बाकी आप सब समय पर छोड़ दीजिए।

ये भी पढ़ें -: MLA चुनाव हारे, कहीं से MP भी नहीं, फिर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बना दिया मंत्री

उनके इस ट्वीट पर ट्विटर यूजर भी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। एक टि्वटर हैंडल से कमेंट आया कि, ‘जाते-जाते आप के माध्यम से स्मृति ईरानी से एक सवाल जरूर पूछूंगा कि पिछले 3 माह में कितने कपड़े बेचे और कितने कफन, कृपया करके इसकी जानकारी स्मृति ईरानी जी दे।’ @I_BobTheBuilder टि्वटर हैंडल से कांग्रेस सरकार पर तंज कसते हुए लिखा गया कि नहीं मैडम जमाना बदल गया है 2014 से। सरकार खर्चा नहीं उठाती अब खुद सैलरी से पे करना होता है कांग्रेस राज की बात ही अलग थी, अलग ठाठ है।

ये भी पढ़ें -: पुराने ट्वीट पर ट्रोल हुए नए स्वास्थ्य मंत्री, लोग बोले- मोदी जी हंसा के मार डालेंगे सबको

एक यूजर ने अलका लांबा का मजा लेते हुए लिखा कि 50 की उम्र के अंदर 8 मंत्री बने हैं। और आप अभी तक तो एक चुनाव भी नहीं जीत पाई हैं। जमानत जप्त होने के बाद भी आप की बकबक चालू है।

@dev90562963 टि्वटर हैंडल से लिखा गया है कि, ‘कोई बात नहीं कोई कुछ भी छीन ले इनसे लेकिन ट्रोल मंत्री तो बनी रहेंगी वो कोई नहीं लेगा ।वैसे हमे तो आजतक ये भी नहीं समझ आया था के इनको किस आधार और किस योग्यता के हिसाब से देश के मंत्रिमंडल में जगह मिली हुई थी।

ये भी पढ़ें -: नए पेट्रोलियम मंत्री का तेल कंपनियों ने किया “स्वैग से स्वागत”, आज फिर महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल

ये भी पढ़ें -: कैबिनेट विस्तार पर बोले रवीश कुमार- ये मजबूर प्रधानमंत्री का मंत्रिमंडल है औऱ…

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-