अब अजमेर शरीफ में शिवालय होने का दावा, महाराणा प्रताप सेना ने कहा- दरगाह में स्वस्तिक का क्या काम?

अब अजमेर शरीफ में शिवालय होने का दावा, महाराणा प्रताप सेना ने कहा- दरगाह में स्वस्तिक का क्या काम?
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

राजस्थान के अजमेर स्थित हजरत ख्वाजा गरीब दरगाह को अब महाराणा प्रताप सेना ने मंदिर होने का दावा किया है. महाराणा प्रताप सेना ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और केंद्र सरकार को भी पत्र लिख कर इसकी जांच कराने के लिए कहा है.

महराणा प्रताप सेना के पदाधिकारियों ने एक तस्वीर भेजी है, जिसमें अजमेर दरगाह की खिड़कियों पर स्वस्तिक के निशान बने हुए हैं. महराणा प्रताप सेना के संस्थापक राजवर्धन सिंह परमार दावा कर रहे हैं कि अजमेर की हजरत ख़्वाजा गरीब नवाज दरगाह एक शिव मंदिर था जिसे दरगाह बना दिया गया.

ये भी पढ़ें -: केशव बोले- सैफई की जमीन बेचकर सड़क बनवाई थी?, अखिलेश बोले- तुमने पिता जी के पैसे से राशन बांटा बांटा?

राजवर्धन सिंह परमार का दावा है कि दरगाह में स्वस्तिक का क्या काम? ये जांच का विषय है. हमने मुद्दा उठाया है. सरकार को जांच करनी चाहिए. महराणा प्रताप सेना ने राजस्थान सरकार, राज्यपाल, केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखी है.

ajmer-dargah-controversy-mahrana-pratap-sena-claims-ajmer-dargah-was-a-shivalaya

ये भी पढ़ें -: शाहिद अफरीदी ने किया यासिन मलिक का समर्थन तो अमित मिश्रा ने दिया ये जवाब…

सेना के प्रमुख परमान ने कहा कि एक हफ्ते में जांच नहीं हुई तो केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात करेंगे. फिर भी कोई समाधान नहीं निकला तो एक बड़ा आंदोलन किया जाएगा. महाराणा प्रताप सेना के कार्यकर्ता 2000 की संख्या में अजमेर जाएंगे और आंदोलन करेंगे. साथ ही कोर्ट का रुख भी किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें -: यासीन मलिक को सजा पर बोले अजमेर दरगाह के दीवान, कहा- कर्मों की मिली सजा

ये भी पढ़ें -: विराट ने ऐसा शॉट खेला कि स्टैंड में बैठे सौरव गांगुली और जय शाह ताली बजाने पर मजबूर

ये भी पढ़ें -: कांग्रेस छोड़ने पर बोले कपिल सिब्बल- आगे बढ़ना मुश्किल है, लेकिन अपने बारे में सोचना पड़ता है

सोर्स – aajtak.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-