Politics

गोरखपुर तक पहुचा अग्निपथ योजना का विरोध, सड़क पर उतरे छात्र बोले- ये धोखा है…

agneepath-scheme-against-protest-started-in-gorakhpur
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

उत्तर प्रदेश के कई शहरों में विरोध हो रहा है। विरोध का असर अब गोरखपुर और देवरिया में भी देखने को मिल रहा है। आक्रोशित युवाओं ने गोरखपुर के सहजनवां रोड पर जाम लगाया। उन्होंने चार साल की नियुक्ति पर सवाल खड़े किए और इस व्यवस्था को बदलने की मांग की। युवाओं ने खजनी थाना क्षेत्र से पैदल विरोध करते हुए सहजनवां रोड पर पहुंचे हैं। गोरखपुर में सड़कों पर जमा छात्रों का कहना है कि पहले तो तीन साल से सेना में भर्ती नहीं हो रही थी। अब सिर्फ चार साल की नौकरी वाली योजना पेश कर दी। ये हमारे साथ धोखा है।

नौजवानों ने गोरखपुर खजनी मार्ग को करीब डेढ़ घंटे जाम कर दिया, जिससे वाहनों को लंबी कतार लग गई। इसके अलावा कालेसर जीरो प्वाइंट पर गोरखपुर-लखनऊ हाईवे जाम करने जा रहे बच्चों को प्रशासन और पुलिस के जिम्मेदारों ने समझा बुझाकर कर शांत कर दिया। इस दौरान करीब एक घंटा अफरा तफरी का माहौल रहा।

ये भी पढ़ें -: कंगना रनौत की ‘धाकड़’ का बजट था 85 करोड़ लेकिन कमाए सिर्फ 2.58 करोड़ रुपये, इतने का हुवा नुकसान

वहीं देवरिया जनपद में सेना की ओर से चार साल के लिए युवाओं को अग्निवीर के तौर पर भर्ती करने वाली अग्निपथ योजना का विरोध बढ़ता जा रहा है। इस योजना के खिलाफ बृहस्पतिवार की सुबह सेना भर्ती के सैकड़ों अभ्यर्थियों ने जमकर बवाल काटा। वे गढ़रामपुर नहर पुलिया के पास जमा हुए और देवरिया-कसया मार्ग को जाम कर अपना विरोध-प्रदर्शन किया।

उनका कहना था कि सरकार इस स्कीम को तत्काल वापस ले। मौके पर पहुंची पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद युवाओं को समझा-बुझाकर शांत किया और तब आवागमन बहाल कराया। इस दौरान लगभग दो घंटे तक सड़क पर आवागमन ठप रहा। केंद्र सरकार की इस घोषणा के बाद देश भर के युवा इसके विरोध में उतर आए। इसी क्रम में बृहस्पतिवार की सुबह तरकुलवा थानाक्षेत्र के नवतप्पी इंटर कॉलेज रामपुर गढ़ के खेल मैदान के पास आसपास के गांवों के सैकड़ों की संख्या में युवा इक्कट्ठा होकर देवरिया-कसया मार्ग को जाम कर दिए और सरकार विरोधी नारे लगाना शुरू कर दिए।

ये भी पढ़ें -: अग्निवीर, अग्निवीर, अग्निवीर, थोड़े से युवा नीति से नाराज़ हैं, राजनीति से नहीं : रवीश कुमार

उन्होंने अग्निपथ योजना वापस लो,संविदा पर बहाली नही चलेगी, युवाओं का भविष्य बर्बाद करना बंद करो, पुरानी बहाली प्रक्रिया को जारी रखो के नारे लगाए। जिससे सड़क पर घंटों आवागमन ठप हो गया। युवाओं का एक स्वर में कहना था कि सरकार इस योजना को वापस ले। इस दौरान लगभग दो घंटे तक सड़क पर आवागमन ठप रहा। इसकी सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवाओं को समझा बूझकर जाम खत्म कराया।

‘अग्निपथ भर्ती योजना’ के तहत युवाओं को चार साल की अवधि के लिए सेना में शामिल होने का मौका मिलेगा। साढ़े 17 साल से 21 साल के युवा लड़के और लड़कियां इसके लिए पात्र होंगे। इसके लिए 10वीं से लेकर 12वीं तक के छात्र आवेदन कर सकेंगे। इसकी शुरुआत 90 दिन के भीतर हो जाएगी। इस साल 46 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी। पहली भर्ती प्रक्रिया में युवाओं को छह महीने की ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग का समय भी चार साल में शामिल होगा।

ये भी पढ़ें -: हिंसक हुआ ‘अग्निपथ’ आंदोलन, छपरा और कैमूर में ट्रेन की बोगियां फूंकी

ये भी पढ़ें -: थाने में पुलिस द्वारा पिटाई वाले वीडियो पर जांच के आदेश, BJP विधायक ने किया था शेयर

सोर्स – amarujala.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-