India

UP के फतेहगढ़ जेल में कैदी की मौत के बाद आगजनी और पथराव, 30 लोग घायल

after-the-death-of-the-prisoner-in-the-district-jail-there-was-a-ruckus-disturbance-arson-and-stone-pelting
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद के फतेहगढ़ स्थित जिला जेल में एक कैदी की मौत पर साथियों में आक्रोश है। गुस्साए कैदियों ने पथराव किया और जेल में आग लगा दी। कैदियों ने जेलर और अन्य पुलिसकर्मियों पर भी हमला किया। सूचना मिलते ही पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर मारपीट और आगजनी की स्थिति को नियंत्रित किया। पुलिस ने दंगा करने वाले बंदियों को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े। जिला जेल में हंगामे के दौरान कैदियों के हमले में 30 पुलिसकर्मियों के घायल होने की खबर है। बताया जा रहा है कि कैदी भी घायल हुए हैं। घायलों को अस्पताल भेजा गया है।

जानकारी के अनुसार हत्या के मामले में मेरापुर थाना क्षेत्र निवासी संदीप जिला जेल में बंद था। बंदी संदीप यादव को डेंगू हो गया था। हालत बिगड़ने पर उसे सैफई अस्पताल रेफर कर दिया गया। शनिवार को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इसकी सूचना मिलते ही बंदियों ने हंगामा किया। बंदियों का आरोप है कि संदीप को समय पर इलाज नहीं मिला। इसलिए उसकी मृत्यु हो गई।

यह भी पढ़ें -: योगी के मंत्री बोले अखिलेश का हो नार्को टेस्ट, ये ISI से पैसे लेकर कर रहे हैं…

कैदियों ने दिवाली के दिन उचित भोजन नहीं दिए जाने का भी आरोप लगाया है। उनका कहना है कि दीवाली पर परिसर नहीं खुलने के कारण आसपास के कैदी मिल भी नहीं पाए थे। रविवार की सुबह बैरिक संख्या 9 और 2 में बवाल हुआ है। इस दौरान जिलाधिकारी संजय सिंह भी जिला जेल पहुंच गए थे। मौके पर पहुंचे जेलरों और अन्य पुलिसकर्मियों पर भी कैदियों ने हमला कर दिया था। बंदियों ने डिप्टी जेलर शैलेश कुमार सोनकर पर हमला किया।

उन्होंने उनकी जमकर पिटाई की। हमले में 30 पुलिसकर्मी और एक बंदी शिवम घायल हुआ है। जिसे अस्पताल भेजा गया है। हालांकि अब बवाल पर पूरी तरह नियंत्रण कर लिया गया है। बता दें कि जेल से तीन गोलियां चलने की आवाज़ भी आई थी। बताया जा रहा है कि स्थिति पर काबू पाने के लिए पुलिस ने फायरिंग की है। हालांकि पुलिस अधीक्षक ने जेल में फायरिंग से इनकार किया है।

यह भी पढ़ें -: नवाब मलिक बोले- समीर वानखेड़े ने शहर को ‘उड़ता महाराष्ट्र’ बनाने की साजिश थी औऱ…

घायल कैदी शिवम ने आरोप लगाया था कि जेलर ने गोली मारी है, इसपर पुलिस अधीक्षक ने ऐसा होने से इनकार किया और कहा कि यह जांच का विषय है। मेडिकल रिपोर्ट आने पर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस अधीक्षक ने जेल में आगजनी और तोड़फोड़ करना स्वीकार किया है।

जेल में हंगामा करने वाले अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पूरे मामले में केस दर्ज किया जाएगा। इसको लेकर जांच की जा रही है। डीजी जेल आनंद कुमार ने बताया कि कैदियों द्वारा उत्पात करने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

यह भी पढ़ें -: आर्यन खान को ट्रैप करके किडनैप किया, उगाही में मोहित कंबोज वानखेड़े का पार्टनर : नवाब मलिक

यह भी पढ़ें -: नए गवाह ने SIT के सामने किया दावा- पैसे ऐंठने के लिए फंसाया गया आर्यन खान को

सोर्स – mediavigil.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-