India

3 परिवारों ने घरों पर लगाया बैनर- BJP विधायक कब्जा कर रहे हमारी जमीन, इसलिए पलायन को मजबूर…

20220911 161744 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

UP News: अमरोहा में भारतीय जनता पार्टी (BJP) विधायक पर जमीन हड़पने का आरोप लगाते हुए 3 परिवारों ने अपने घरों पर पलायन करने का बैनर लगा दिया है. अब पीड़ित परिवार न्याय न मिलने पर पेट्रोल छिड़ककर सुसाइड करने की धमकी दे रहे हैं. इन परिवारों का आरोप है कि विधायक पुलिस प्रशासन की मदद से उनकी जमीन पर कब्जा कर रहे हैं. यह मामला हसनपुर इलाके के डगरोली गांव का है. यहां से वाराणसी को जोड़ने वाला एक्सप्रेस-वे गुजर रहा है. इसकी वजह से इलाके में जमीनें महंगी हो गई हैं. इस इलाके के रहने वाले 3 परिवारों ने अपने घरों पर पलायन करने का बैनर लगा दिया है.

इन परिवारों का आरोप है कि बीजेपी के विधायक उनकी जमीन हड़पना चाहते हैं. पुलिस ने मारपीट कर उन्हें घरों से निकाल दिया है. पीड़ित परिवार न्याय न मिलने पर पेट्रोल छिड़ककर पूरे परिवार सहित आत्महत्या करने की धमकी दे रहा है. साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ से न्याय की गुहार लगाई है. वहीं जिला प्रशासन इस मामले पर चुप्पी साधे हुए है.

ये भी पढ़ें -: UP की जेल में बंद केरल के पत्रकार सिद्दीकी कप्पन को सुप्रीम कोर्ट से मिली बड़ी राहत, पढ़ें विस्तार से…

पीड़ित जयप्रकाश ने कहा कि बीजेपी के विधायक हमारी जमीन पर कब्जा कर रहे हैं. हमारी पुश्तैनी जमीन है. हमारे पास सारे कागजात हैं. पुलिस ने हमें मारपीट कर हमारे घर से निकाल दिया और हमारा सामान बाहर फेंककर घर पर ताला लगा. जयप्रकाश ने कहा कि अगर हमें न्याय नहीं मिला तो हम या तो पेट्रोल छिड़ककर आग लगा लेंगे, या पूरे परिवार के साथ यहां से चले जाएंगे.

वहीं, पीड़ित मीनू ने कहा कि विधायक महेंद्र खड़क वंशी हमारी जमीन पर कब्जा करना चाहते हैं. विधायक ने पुलिस भेजकर हमारे साथ मारपीट कराई. हमारा सामान बाहर फेंक दिया और हमारे घर पर सीओ ने ताला लगा दिया. हमें घर से बाहर निकाल दिया गया. मेरी जब से शादी हुई है, तब से इसी घर में रहते थे. यह हमारी पुश्तैनी जमीन है. अगर हमें न्याय नहीं मिला तो हम पूरे परिवार के साथ यहीं आत्मदाह कर लेंगे. एक अन्य पीड़ित राजेंद्र कुमार ने भी विधायक महेंद्र सिंह खड़क वंशी पर यही आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि विधायक हमसे जबरन हमारी जमीन छीनना चाहते हैं. इस मामले को लेकर क्षेत्राधिकारी सतीश चंद्र पांडे ने कहा कि 7 सितंबर को सूचना मिली थी कि ग्राम डगरौली में मकान पर कब्जे को लेकर झगड़ा हो गया है. इसके बाद पुलिस ने दोनों पक्षों के दो-दो लोगों के खिलाफ 151 के तहत कार्रवाई की. वहीं, तीन-तीन व्यक्तियों के खिलाफ 107/16 की कार्रवाई की गई है.

ये भी पढ़ें -: असम CM की रैली में बवाल, मंच पर चढ़े TRS कार्यकर्ता ने जबरन खींचा माइक

क्षेत्राधिकारी ने कहा कि इस मामले में पता चला है कि साल 2005 में कौशला देवी से हरिओम ने जमीन स्टांप पर खरीदी थी. दो साल पहले हरिओम ने इस जमीन पर मकान बनाया था. अब इस जमीन के रेट बढ़ने के कारण कौशला देवी के पुत्र जयप्रकाश और परिवारजन कब्जा करना चाहते हैं. इसी कारण दोनों के बीच विवाद हुआ था. 9 सितंबर को हरिओम ने कोर्ट में मामला दायर किया, जिसमें यथास्थिति बनाए रखने के आदेश दिए गए हैं. वहीं, इस मामले में भाजपा विधायक महेंद्र खड़क वंशी ने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया.

इस मामले में आम आदमी पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई ने ट्विटर पर लिखा, ”योगी आदित्यनाथ की सरकार में भाजपा नेताओं द्वारा लगातार कानून की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. अमरोहा जनपद के हसनपुर थाना क्षेत्र के डगरोली गांव में हसनपुर बीजेपी विधायक महेंद्र खड़गवंशी व उनके गुर्गों ने 6 विस्वा जमीन कब्जा कर लिया.” वहीं, समाजवादी पार्टी के नेता मुखिया गुर्जर ने भी भाजपा सरकार पर निशाना साधा.

ये भी पढ़ें -: ह्यूमन डेवलपमेंट से प्रेस फ्रीडम इंडेक्स तक, जानें कहां-कहां गिरी भारत की रैंकिंग

ये भी पढ़ें -: सुप्रीम कोर्ट बोला- हिजाब की तुलना सिखों की पगड़ी और कृपाण से नहीं की जा सकती है

ये भी पढ़ें -: कांग्रेस नेता का BJP पर पलटवार, बोले- निक्कर वाले केवल टी-शर्ट ही तो देखेंगे


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-