स्वास्थ्य मंत्री बोले- राहुल गांधी ‘भारत जोड़ो’ यात्रा में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें, या यात्रा स्थगित करें

स्वास्थ्य मंत्री बोले- राहुल गांधी ‘भारत जोड़ो’ यात्रा में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें, या यात्रा स्थगित करें
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने अशोक गहलोत और राहुल गांधी को चिट्ठी लिखकर कहा है कि भारत जोड़ो यात्रा से कोरोना के प्रोटोकॉल टूट रहे हैं. दुनियाभर में कोरोना तेज़ी से फैल रहा है, इसलिए कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जाए. पत्र में कहा गया है कि यात्रा में सिर्फ वैक्सीन ले चुके लोग ही हिस्सा लें और मास्क व सैनेटाइजर का उपयोग किया जाए. साथ ही यात्रा में जुड़ने से पूर्व और बाद में यात्रियों को आइसोलेट किया जाए. अगर यब करना संभव न हो तो देशहित में यात्रा को स्थगित किया जाए.

आपको बता दें कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान से हरियाणा पहुंची है. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला, दीपेंद्र सिंह हुड्डा, पार्टी के प्रदेश प्रमुख उदय भान सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं ने यात्रा का राज्य में स्वागत किया. यह यात्रा 23 दिसंबर तक राज्य के अलग-अलग इलाकों से गुज़रेगी.

हरियाणा के नूंह जिले में एक सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश में दो विचारधाराओं के बीच लड़ाई कोई नई बात नहीं है, यह हज़ारों साल से चली आ रही है.

ये भी पढ़ें -: साध्वी प्राची बोली- Pathan का इंतज़ार 100 करोड़ सनातनी कर रहे, इसका चलना नामुमकिन, हुवी ट्रोल

राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधते हुए कहा कि आज लड़ाई दो विचारधाराओं के बीच है, एक विचारधारा चुनिंदा लोगों को फायदा पहुंचाती है, जबकि “दूसरी अन्य लोगों, किसानों और मज़दूरों की आवाज़ उठाती है… और इस लड़ाई में कांग्रेस पार्टी की एक भूमिका है…

BJP नेताओं के उनकी पदयात्रा पर सवाल उठाने पर राहुल गांधी ने कहा कि वे पूछते हैं कि कन्याकुमारी से यात्रा शुरू करने की क्या ज़रूरत थी. राहुल ने कहा, “मैं ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के ज़रिये नफरत के बाज़ार में प्यार की दुकान खोल रहा हूं… जब ये लोग देश में जाकर नफरत फैलाते हैं, तब हमारी विचारधारा वाले लोग बाहर निकलकर प्यार व स्नेह बांटते हैं…

भारत जोड़ो यात्रा 7 सितंबर को तमिलनाडु में कन्याकुमारी से शुरू हुई थी. तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और राजस्थान से होकर अब हरियाणा पहुंची है. फरवरी की शुरुआत में जम्मू एवं कश्मीर में यह यात्रा सम्पन्न होगी. यात्रा के तहत 150 दिन में 3,570 किलोमीटर का सफर तय करने का लक्ष्य है.

ये भी पढ़ें -: SRK का नाम होता शेखर राधा कृष्ण ‘ तो क्या बदल जाता?, इस सवाल पर शाहरुख का जवाब वायरल

ये भी पढ़ें -: पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर का बयान- विराट और बाबर की तुलना बंद करो, वो बहुत बड़ा जीरो है…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-