Sports

सुप्रीम कोर्ट ने महेंद्र सिंह धोनी को भेजा नोटिस, जानें पूरा मामला…

20220726 094155 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और धुआंधार खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी को सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस भेजा है। यह नोटिस आम्रपाली ग्रुप और धोनी के बीच लेनदेन को लेकर जारी किया गया है। बता दें कि धोनी आम्रपाली ग्रुप के ब्रैंड एंबेसडर थे। आम्रपाली ग्रुप का बायर्स को फ्लैट की पजेशन देने के लेकर विवाद चल रहा है जिसको लेकर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई।

दरअसल महेंद्र सिंह धोनी के आम्रपाली ग्रुप से 150 करोड़ रुपये लेने हैं। इसी मामले में फ्लैट बायर्स ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका फाइल की थी कि अगर इतना पैसा धोनी को दे दिया तो फ्लैट नहीं बन पाएगा।

ये भी पढ़ें -: नाइजीरिया को पीछे छोड़ भारत गरीबी में बना नंबर वन, देश में 18.92 करोड़ लोग कुपोषित

सुप्रीम कोर्ट ने धोनी का पक्ष जानने के लिए उन्हें नोटिस भेजा है। पहले आम्रपाली ग्रुप और महेंद्र सिंह धोनी के बीच लेनदेन का यह मामला हाई कोर्ट में था। हाई कोर्ट ने एक कमिटी का गठन किया था और मामला सुलझाने का काम दिया था।

इसके बाद फ्लैट बायर्स ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दी और कहा कि आम्रपाली ग्रुप के पास फंड कम है। ऐसे में उन्हें फ्लैट नहीं मिल पा रहे हैं। अगर इतना पैसा आम्रपाली ग्रुप महेंद्र सिंह धोनी को दे देगा तो उनके फ्लैट मिलने मुश्किल हो जाएंगे।

ये भी पढ़ें -: BJP MLA का बयान- शराब की जगह गांजे-भांग को मिले बढ़ावा, तो CM बघेल बोले- वो केंद्र से कर लें बात

आम्रपाली ग्रुप पर आरोप है कि उसने समय सीमा बीतने और कीमत लेने के बाद भी फ्लैट की पजेशन नहीं दी है। इसके बाद पता चला कि फ्लैट बनकर तैयार ही नहीं हो पाए हैं। मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया।

महेंद्र सिंह धोनी लंबे समय तक ग्रुप के ब्रैंड एंबेसडर थे और कई विज्ञापन भी किए थे। जब नोएडा में आम्रपाली ग्रुप के विरोध में प्रदर्शन हो रहे थे तो धोनी के खिलाफ भी कैंपेन चलाया गया था। इसके बाद ही उन्होंने आम्रपाली ग्रुप से संबंध तोड़ लिया था।

ये भी पढ़ें -: कॉमेडियन का स्मृति ईरानी पर तंज, बोले- क्योंकि रेस्टोरेंट भी कभी बार था…

ये भी पढ़ें -: मजार पर चादर चढ़ाते पहुचे योगी आदित्यनाथ के मंत्री, लोग बोले- भक्त इन्हें दिल से माफ नहीं करेंगे

ये भी पढ़ें -: कांग्रेस के चार सांसदों को पूरे सत्र के लिए लोकसभा से किया गया निलंबित, जानें पूरा मामला…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-