सुपर ओवर में भारतीय महिला टीम ने ऑस्ट्रेलिया को पटका, सीरीज में 1-1 से की बराबरी

सुपर ओवर में भारतीय महिला टीम ने ऑस्ट्रेलिया को पटका, सीरीज में 1-1 से की बराबरी
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

INDW vs AUSW: भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 5 मैचों की टी20 सीरीज के दूसरे मुकाबले में मात दी। ये मुकाबला टीम इंडिया ने सुपर ओवर में जीता। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत को 188 रन का टारगेट दिया था। जवाब में टीम इंडिया 5 विकेट खोकर 187 रन ही बना पाई। लेकिन टीम इंडिया ने सुपर ओवर में बाजी मार ली।

ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारतीय टीम ने पांच मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी भी कर ली है। भारत ने इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया के पिछले 16 टी20 मैच के विजयी अभियान पर भी रोक लगा दी। ऑस्ट्रेलिया की 2022 में किसी भी फॉर्मेट में यह पहली हार है। ऑस्ट्रेलिया के 188 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने स्मृति मंधाना (79) के अर्धशतक और शेफाली वर्मा (34) के साथ उनकी पहले विकेट की 76 रन की साझेदारी के चलते शानदार वापसी की। इसके बाद स्मृति ने कप्तान हरमनप्रीत कौर (21) के साथ तीसरे विकेट की 61 रन की साझेदारी की। वहीं ऋचा घोष (13 गेंद में नाबाद 26 रन, तीन छक्के) और देविका वैद्य (पांच गेंद में नाबाद 11 रन, दो चौके) ने अंत में इस मैच टाई कराने में अहम भूमिका निभाई।

ऑस्ट्रेलिया ने सलामी बल्लेबाज बेथ मूनी (नाबाद 82) और ताहलिया मैकग्रा (नाबाद 70) के अर्धशतक तथा दोनों के बीच दूसरे विकेट की 158 रन की रिकॉर्ड शतकीय साझेदारी से एक विकेट पर 187 रन बनाए। मूनी ने 54 गेंद का सामना करते हुए 13 चौके जड़े जबकि ताहलिया ने 51 गेंद की अपनी पारी में 10 चौके और एक छक्का मारा। भारत ने इतिहास के अपने पहले सुपर ओवर में ऋचा और स्मृति के साथ आगाज किया। ऋचा ने हीथर के पहली गेंद पर छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद को हवा में लहराकर उन्हीं को कैच दे बैठीं। स्मृति ने चौथी गेंद पर चौका और फिर अगली गेंद पर छक्का मारा। अंतिम गेंद पर तीन रन से भारत ने 20 रन बनाए।

ये भी पढ़ें -: संजू सैमसन को मिला इस देश से खेलने का ऑफर, हर मैच में खिलाने की दी गई गारंटी

भारत ने गेंदबाजी के लिए रेणुका सिंह को चुना। ऑस्ट्रेलिया ने कप्तान एलिसा हीली और एशले गार्डनर को उतारा। हीली ने पहली गेंद चौका मारा लेकिन अगली गेंद पर रेणुका ने उन्हें रन आउट करने का मौका गंवा दिया। तीसरी गेंद पर गार्डनर ने लांग ऑफ पर राधा यादव को कैच थमाया। ताहलिया अगली गेंद पर एक रन ही बना सकी। अंतिम दो गेंद पर एलिसा ने 10 रन बनाए लेकिन ऑस्ट्रेलिया 16 रन ही बना सका और भारत ने जीत दर्ज की।

मूनी और ताहलिया की साझेदारी भारत के खिलाफ किसी भी विकेट की सबसे बड़ी साझेदारी होने के अलावा ऑस्ट्रेलिया की ओर से भी किसी भी विकेट की सबसे बड़ी साझेदारी है। मूनी और ताहलिया की बदौलत ऑस्ट्रेलिया की टीम अंतिम 11 ओवर में 118 रन जोड़ने में सफल रही। भारत की ओर से एकमात्र विकेट दीप्ति शर्मा के खाते में गया जिन्होंने चार ओवर में 31 रन खर्च किए।

मंधाना और हरमनप्रीत के विकेट के बाद मैच फंस गया था। लेकिन ऋचा घोष शुरुआत से ही अच्छी लय में दिखी। उन्होंने अनाबेल पर छक्के से खाता खोला और फिर एशले पर भी दो छक्के मारे। भारत को अंतिम दो ओवर में जीत के लिए 18 रन की दरकार थी। दीप्ति शर्मा (02) ने हीथर की गेंद पर एलेना को कैच थमाया। हीथर के इस ओवर में सिर्फ चार रन बने। भारत को अंतिम ओवर में 14 रन चाहिए थे। मेगन शूट की दूसरी गेंद देविका वैद्य (नाबाद 11) के बल्ले का बाहरी किनारा लेकर चार रन के लिए गई। अगली तीन गेंद पर सिर्फ चार रन बने जिससे भारत को अंतिम गेंद पर पांच रन की जरूरत थी। देविका ने अंतिम गेंद पर चौका जड़कर मुकाबले को टाई कराके सुपर ओवर में खींचा।

ये भी पढ़ें -: हार के बाद फूट-फूटकर रोए रोनाल्डो, मोरक्को प्लेयर ने मां के साथ किया डांस

ये भी पढ़ें -: ईशान किशन के दोहरे शतक पर गर्लफ्रेंड हुवी गदगद, फोटो शेयर कर इस तरह दी बधाई


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-