Politics

सावरकर पर राहुल गांधी के बयान पर संजय राउत ने कही ऐसी बात कि नई राजनीतिक चर्चाओं का दौर शुरू

20221118 192629 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Maharashtra: शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हमने साफ कर दिया है कि वीर सावरकर को लेकर राहुल गांधी के बयान से शिवसेना सहमत नहीं है. शिवसेना सावरकर के बारे में गलत बयान स्वीकार नहीं करती, शिवसेना इसे बर्दाश्त नहीं करेगी. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को देशभर में अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है. सबसे ज्यादा प्रतिक्रिया महाराष्ट्र में मिली.

हालांकि राउत ने यह भी कहा कि इस यात्रा में वीर सावरकर का मुद्दा उठाने की जरूरत नहीं है. संजय राउत ने कहा कि इस मुद्दे को उठाने से न केवल शिवसेना हैरान है, बल्कि महाराष्ट्र में कांग्रेस के नेता भी हैरान हैं. राउत ने बड़ा बयान दिया है कि इससे महाविकास अघाड़ी में फूट पड़ सकती है.

संजय राउत ने कहा कि ऐतिहासिक काल में क्या हुआ और क्या नहीं हुआ, इसके बजाय एक नया इतिहास रचा जाना चाहिए. राउत ने कहा कि राहुल गांधी को इस पर ध्यान देना चाहिए. हमारी मांग है कि वीर सावरकर को भारत रत्न दिया जाए. हम लगातार यह मांग कर रहे हैं. उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि पता नहीं बीजेपी में जो नए सावरकर भक्त पैदा हुए हैं वे सावरकर को भारत रत्न देने की मांग क्यों नहीं उठाते.

ये भी पढ़ें -: मस्क की चेतावनी के बाद कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से दिया इस्तीफा, इतने लोग है शामिल…

संजय राउत ने कहा कि शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे ने हमेशा सावरकर के विचारों का समर्थन किया है. राउत ने यह भी कहा कि हम ऐसा करना जारी रखेंगे. राउत ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र में आना और सावरकर को बदनाम करना न तो महाराष्ट्र को मंजूर है और न ही शिवसेना को. राउत ने इस दौरान कहा कि महाराष्ट्र में कांग्रेस के नेता भी राहुल गांधी के बयान का समर्थन नहीं करेंगे.

संजय राउत ने कहा क महंगाई, बेरोजगारी, महिलाओं पर अत्याचार बढ़ रहा है. इसी मुद्दे पर भारत जोड़ो यात्रा जारी है. उसे अच्छा समर्थन मिल रहा है. राउत ने इस दौरान यह भी कहा कि सावरकर का मुद्दा उठाने की जरूरत नहीं है. इस मौके पर संजय राउत ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि महाविकास अघाड़ी में फूट पड़ सकती है. क्योंकि हम सावरकर को अपनी आस्था का स्थान मानते हैं.

इस बीच हम पिछले कई सालों से सावरकर को भारत रत्न दिए जाने की मांग कर रहे हैं. राउत ने सवाल किया कि केंद्र में बीजेपी की सरकार है. ये लोग सावरकर को भारत रत्न क्यों नहीं देते? राउत ने यह भी कहा क्या उनका प्यार झूठा है? यह देखना होगा.

ये भी पढ़ें -: मस्क की चेतावनी के बाद कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से दिया इस्तीफा, इतने लोग है शामिल…

ये भी पढ़ें -: शामली के जिया मोहम्मद की कहानी- दिल्ली में ₹450 महीने की नौकरी से दो करोड़ टर्नओवर वाली कंपनी…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-