Politics

शिंदे समर्थक विधायक के दफ्तर में तोड़फोड़, राउत बोले- लोगों में आक्रोश है और इसे रोक नहीं सकते हैं

20220625 150528 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

पुणे में शिवसेना कार्यकर्ताओं ने एक बागी विधायक तानाजी सावंत के दफ्तर में जमकर तोड़-फोड़ मचाई है और हंगामा किया है. इन शिवसेना कार्यकर्ताओं ने दफ्तर में तोड़-फोड़ के बाद स्प्रे से दीवार पर गद्दार सावंत लिख दिया. ताना जी सावंत परांदा विधानसभा सीट से शिवसेना के विधायक हैं. शिवसेना के कार्यकर्ता जय शिवाजी का नारा लगाते हुए विधायक ताना जी के दफ्तर में घुस गए और तोड़ फोड़ शुरू कर दी. वहीं इस हिंसा के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि विधायकों की बगावत के बाद लोगों में आक्रोश है और इसे रोक नहीं सकते हैं.

तानाजी सावंत का जिक्र आने पर संजय राउत ने बेहद आक्रामक भाषा का इस्तेमाल करते हुए कहा कि वे कांग्रेस से शिवसेना में आए थे और ये उनकी पहली विधायकी है. उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को हम कपड़े उतार कर सड़क पर खड़ा करते हैं. बता दें कि तानाजी सावंत इस समय असम के गुवाहाटी में बागी विधायकों के साथ मौजूद हैं.

ये भी पढ़ें -: हरियाणा की खापों का ऐलान- अग्निवीर भर्ती के लिए एप्‍लाई करने वाले का करेंगे सामाजिक बहिष्‍कार

संजय राउत ने इस हिंसा पर कहा कि ये महाराष्ट्र के लोगों का गुस्सा है, महाराष्ट्र में ऐसा नहीं चलता है, और गुस्सा रहना भी चाहिए. ये शिवसेना की आग है और हम इस आग को कभी बुझने नहीं देते हैं. ये बाला साहेब ठाकरे ने हमसे कहा है. ये राख नहीं होनी चाहिए. इस आग को जलते रहने के लिए जो समिधा की जरूरत है उसे डालते रहना चाहिए. शिवसेना नेता ने कहा कि आप हमारे विधायकों को किडनैप करेंगे, उन्हें सिक्योरिटी देंगे, और हम अपना गुस्सा नहीं निकालेंगे? क्या ऐसा हो सकता है? क्या हम नामर्द हैं, हम नामर्द नहीं हैं. ज्यादा से ज्यादा क्या होगा, सत्ता चली जाएगी. सत्ता और बहुमत आती जाती रहती है.

ये भी पढ़ें -: संजय राउत बोले- अगर 24 घंटे में शिंदे संग बागी विधायक मुंबई लौटे तो…

संजय राउत ने कहा कि असली शिवसेना ठाकरे नाम से जुड़ा है. शिंदे, राणे, भुजबल ये लोग आते रहते हैं और आते रहेंगे और चले जाएंगे. अगर कोई कहता है कि हम बाला साहेब के भक्त हैं तो आप भक्ति करो. पार्टी पर कब्जा मत करो. अगर कब्जा करोगे तो तलवार का जवाब तलवार से दिया जाएगा.

संजय राउत ने कहा कि देवेंद्र फडणवीस को इस झमेले में नहीं पड़ना चाहिए. वे एक बार धोखा खा चुके हैं. उन्होंने कहा कि ये हमारा अंदर का मामला है वे अगर इस मामले में पड़ेंगे तो उन्हें सबसे ज्यादा तकलीफ होगी. संजय राउत ने कहा कि सेंट्रल पुलिस महाराष्ट्र के लोगों को सुरक्षा क्यों दे रही है, ये लोग गद्दार लोग हैं. आखिर सेंट्रल पुलिस उन्हें सुरक्षा क्यों दे रही है. संजय राउत ने कहा कि पीएम मोदी और अमित शाह को महाराष्ट्र के इस पचड़े में नहीं पड़ना चाहिए.

ये भी पढ़ें -: ममता बनर्जी बोलीं- बागी विधायकों को भेज दो बंगाल, हम करेंगे ‘अच्छी खातिरदारी’

ये भी पढ़ें -: वरुण गांधी का ऐलान- मैं पेंशन छोड़ने को तैयार, अगर अग्निवीर हकदार नहीं तो जनप्रतिनिधियों को…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-