India

शाहजहांपुर की मस्जिद में घुसकर जलाया धार्मिक ग्रंथ, भीड़ ने भाजपा नेताओं के होर्डिंग जलाए

20221102 223129 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Burnt Religious Books in Shahjahanpur Mosque : मस्जिद में घुसकर दो युवकों ने धार्मिक ग्रंथ जला दिया, जिसके बाद लोग भड़क गए। उन्होंने मुख्य मार्ग पर जाम लगाने की कोशिश की। प्रशासन व पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। लोगों को समझाने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन, नहीं माने।

गुस्साए लोग मस्जिद के बाहर जमा हो गए। आक्रोषित भीड़ ने आसपास लगे भाजपा नेताओं के होर्डिंग उतारे और उनमें आग लगा दी। यह देख पुलिस को मोर्चा लेना पड़ा और उग्र हो रही भीड़ को लाठी फटकार कर तितर बितर किया। मौके पर ऐहतियातन पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

शाहजहांपुर शहर के चौक कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला बावूजई में सैयद शाह फखरे आलम मियां मस्जिद है। बुधवार शाम किसी समय दो युवकों ने मस्जिद में घुसकर वहां रखे धार्मिक ग्रंथ को जला दिया। नमाज के लिए जब इमाम हाफिज नदीम व अन्य लोग पहुंचे तो धार्मिक ग्रंथ के जले हुए पन्ने देख उन्होंने अन्य लोगों को सूचना दी।

ये भी पढ़ें -: सरकार कह रही ‘सब चंगा सी’, पर कश्मीरी पंडित छोड़ रहे हैं घर

देर शाम बड़ी संख्या में लोग मस्जिद के बाहर व बेरी चौकी रोड पर एकत्र हो गए। जिससे जाम की स्थिति बन गई। एडीएम प्रशासन रामसेवक द्विवेदी, एएसपी सिटी संजय कुमार फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। दोनों अधिकारियों ने इमाम व वहां मौजूद अन्य लोगों से बात की। उनसे आरोपितों को पकड़ने के लिए मोहलत मांगी।

आनन फानन में अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच शुरू कर दी है। इसके बाद भीड़ मुख्य मार्ग से तो हट गई, लेकिन मस्जिद के बाहर अब भी बड़ी संख्या में लोग मौजूद हैं। अधिकारी उन्हें समझाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन वे लोग वापस जाने को तैयार नहीं हैं।

सीओ सिटी अखंड प्रताप सिंह ने बताया कि मस्जिद के पास स्थित शोरूम के सीसीटीवी में दो युवक नजर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि इन दोनों ने ही इस कृत्य को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि दोनों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें -: मोरबी हादसे के लिए विवेक अग्निहोत्री ने अर्बन नक्सल को ठहराया जिम्मेदार, मोहम्मद जुबैर ने दिया जवाब

ये भी पढ़ें -: आईसीसी वर्ल्ड रैंकिंग में सूर्यकुमार यादव ने मारी लंबी छलांग, इस पोजिशन पर जमाया कब्जा


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-