Politics

शत्रुघ्न सिन्हा BJP की चुटकी लेते हुवे बोले- विपक्ष खत्म करना चाहते थे, इनके तोते उड़ गए

20220811 113738 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

बिहार में नीतीश कुमार आठवीं बार मुख्यमंत्री बन गए हैं. तेजस्वी यादव ने भी डिप्टी सीएम की शपथ ले ली है. अब 164 विधायकों के समर्थन में राज्य में एक बार फिर महागठबंधन की सरकार बनी है. लेकिन बीजेपी इस पूरी सरकार को ही जनादेश का अपमान बता रही है. नीतीश कुमार के अलग होने के फैसले को विश्वासघात कह रही है.

इस बीच टीएमसी सांसद और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने बीजेपी को आड़े हाथों लिया है. जोर देकर कहा है कि बीजेपी के इस समय तोते उड़ गए हैं. विपक्ष को खत्म करने के सपने देखने वाली पार्टी खुद अकेले रह गई है. आजतक से बात करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा है कि बिहार से संदेश स्पष्ट निकल रहा है कि पूरे विपक्ष को एकजुट होना पड़ेगा. ममता बनर्जी भी ऐसा ही चाहती हैं, अखिलेश भी इस एकता की बात कर चुके हैं, बिहार में नीतीश-तेजस्वी साथ आए हैं.

ये भी पढ़ें -: BJP नेता बोले- नीतीश ने धोखा दिया, लोग बोले- गोवा, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश में क्या हुवा था?

अगर बिहार में 164 विधायक साथ आ सकते हैं, तो देश में भी तमाम विपक्ष एक क्यों नहीं हो सकता है. हर बात को भुलाकर साथ आना चाहिए और बीजेपी के खिलाफ लड़ना चाहिए. वैसे इस समय क्योंकि बीजेपी धोखा देने का आरोप लगा रही है, नीतीश कुमार पर जनादेश का अपमान करने की बात कर रही है, इस पर शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा है कि जैसी करनी वैसी भरनी.

उन्होंने कैसे-कैसे सरकार को तोड़ा-जोड़ा. कैसे खरीदा. धनशक्ति का दुरुपयोग किया. अपने अहंकार का चाहे महाराष्ट्र हो, मध्यप्रदेश हो या गोवा हो या जो बिहार में हो रहा था. अभी जो बिहार में चल रहा है, वह ऐसा नहीं है कि अचानक एक रात में हो गया हो. ये लोग कई दिनों से इस पर सोच रहे थे.  नीतीश कुमार का कोई वादा बीजेपी ने पूरा नहीं किया. उन्होंने न स्पेशल पैकेज दिया, न एक लाख 75 हजार करोड़ दिए, न बिहार के विकास में उन्होंने मदद की.

ये भी पढ़ें -: जेल जाने से पहले श्रीकांत त्यागी के बदले सुर- वह मेरी बहन की तरह

इन सब के बीच बीजेपी के लीडर बिहार आकर कहते हैं कि हम विपक्ष की सारी पार्टियों को खत्म कर देंगे. लेकिन अब बीजेपी ही अकेले रह गई है. इस समय नीतीश कुमार को लेकर कहा जा रहा है कि उन्होंने पीएम बनने की चाह में बीजेपी का साथ छोड़ा है. वे 2024 में प्रधानमंत्री रेस में शामिल होना चाहते हैं.

नीतीश तो अभी ऐसी किसी भी दावेदारी को खारिज कर रहे हैं, लेकिन ये सवाल जब शत्रुघ्न सिन्हा से पूछा गया तो उन्होंने जोर देकर कहा कि वे पहले शख्स थे जिन्होंने नीतीश की दावेदारी की बात की थी. अभी तो पूरा विपक्ष साथ आया है, बिहार ने उदाहरण पेश किया है, आगे देखिए क्या होता है.

ये भी पढ़ें -: उद्धव ठाकरे के हश्र से नीतीश ने लिया सबक, शिवेसना जैसा हाल होने के पहले कर लिया ये काम…

ये भी पढ़ें -: केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा- सरकार हमारे हिसाब से चलेगी, अफसरों को सिर्फ Yes Sir कहना है

ये भी पढ़ें -: चाचा-भतीजा राजी… भाड़ में जाए फूफा जी, गठबंधन में टूट के बाद वायरल हुआ नेहा सिंह राठौर का गाना


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-