India

महंत नरेंद्र गिरी के कमरे से मिला तीन करोड़ कैश, गहने और जमीन के कागजात, CBI हैरान

20220916 222049 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Mahant Narendra Giri Death: प्रयागराज में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जांच कर रही सीबीआई टीम गुरुवार (15 सितंबर 2022) को बाघम्बरी मठ पहुंची। इस दौरान महंत के सील किए हुए कमरे को सीबीआई की टीम, पुलिस और मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में खोला गया। सूत्रों के मुताबिक, महंत के कमरे से 3 करोड़ रुपए कैश, गहने और कुछ जमीन के कागजात बरामद हुए।

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के बाद जांच में तीन करोड़ रुपयों से भरे दो बैग उस पलंग में बने दराज में पाए गए थे, जिस पर महंत सोते थे। इस कक्ष को महंत की मौत के चार दिन दिन बाद सीबीआई ने पांच लोगों की मौजूदगी में सील कर दिया था। गुरुवार को सीबीआई के अधिकारी जांच के लिए लगभग पूरा दिन बाघम्बरी मठ में थे। इस दौरान वहां मिली करोड़ों की नगदी गिनने के लिए बैंक अधिकारी को बुलाया गया था।

ये भी पढ़ें -: सुप्रीम कोर्ट के दो जस्टिसों ने अपने ही सिस्टम पर उठाए सवाल, पढ़ें विस्तार से…

जमीन के कागजों की जांच के लिये एक सब रजिस्ट्रार को भी बाद में बुलाया गया था। वहां मौजूद सामानों की लिस्ट बनाने के बाद उसे महंत बलवीर गिरी को सौंप दिया गया। नरेंद्र गिरी की माला और बाजूबंद भी महंत बलवीर गिरी को दिया गया। इसके साथ ही कमरे की चाबी भी महंत को सौंप दी गयी। सीबीआई ने इस कार्रवाई की वीडियो रिकार्डिंग भी करायी है।

सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई टीम के साथ पुलिस और मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में महंत के शयन कक्ष को खोला गया। सीबीआई को महंत नरेंद्र गिरी के सीलबंद कमरे से लगभग तीन करोड़ नकद, जेवरात, जमीन के कागजात, बलवीर गिरी को की गई वसीयत, महंत की आभूषण माला मिले जिन्हें महंत बलवीर गिरि को सौंप दिया गया।

ये भी पढ़ें -: PM मोदी के कार्यक्रम में लगीं स्कूल बसें, ग्वालियर के कई स्कूलों में छुट्टी, कलेक्टर ने दी ये सफाई…

सील कर दिया गया था कमरा: महंत नरेंद्र गिरी का कमरा मठ के मेन गेट के पास स्थित बिल्डिंग की पहली मंजिल पर स्थित है। महंत की संदिग्ध मौत के बाद प्रयागराज पुलिस ने मठ के दो कमरों को सील किया था। एक वो कमरा, जिसमें महंत नरेंद्र गिरी का शव फंदे से लटकता हुआ पाया गया था और दूसरा कमरा, जिसमें महंत नरेंद्र गिरी रहते थे।

मठ के वर्तमान उत्तराधिकारी बलबीर गिरी ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर महंत नरेंद्र गिरी के कमरे को खुलवाने की अपील की थी। इसी पर कोर्ट ने सीबीआई को निर्देश दिया था। गौरतलब है कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष रहे महंत नरेंद्र गिरी का शव 20 सितंबर 2021 को मठ स्थित कमरे में फंदे से लटकता हुआ मिला था।

ये भी पढ़ें -: अल्पसंख्यक आयोग प्रमुख इकबाल सिंह बोले- नरेंद्र मोदी हम जैसे ज्‍यादातर स‍िखों से बेहतर सिख हैं

ये भी पढ़ें -: BJP प्रवक्ता बोले- गोडसे मुर्दाबाद था, है और रहेगा, सुप्रिया श्रीनेत बोली- ये कहलवाने का सुकून ही…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-