India

मध्य प्रदेश में शव वाहन नहीं मिला तो बाइक पर 80 किमी ले गए मां का शव

20220802 122812 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

मध्य प्रदेश के शहडोल मेडिकल कॉलेज में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक युवक अपनी मां की मौत के बाद शव वाहन तलाश करता रहा, लेकिन जब शव वाहन नहीं मिला तो उसने लकड़ी का तख्ता खरीदा और उसमें शव को बांधकर बाइक से 80 किलोमीटर दूर अपने गांव ले गया.

यह मामला सामने आने के बाद मेडिकल कॉलेज के डीन ने सफाई देते हुए कहा कि उनसे शव वाहन की मांग ही नहीं की गई. जानकारी के अनुसार, अनूपपुर के जिले के गोडारु गांव की महिला जयमंत्री यादव को सीने में तकलीफ के बाद शहडोल के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था, लेकिन 31 जुलाई को महिला की मौत हो गई.

ये भी पढ़ें -: रवि किशन पर लगा फिल्म का टाइटल चोरी करने का आरोप, जानें पूरा मामला…

महिला की मौत के बाद शव को घर ले जाने के लिए सरकारी शव वाहन नहीं मिला, जबकि प्राइवेट शव वाहन वाले 5 हजार रुपये मांग रहे थे, जो परिजनों के पास नहीं थे. विवश होकर महिला के बेटों ने बाजार से लकड़ी का तख्ता खरीदा और किसी तरह उसी में शव बांधकर बाइक से 80 किलोमीटर दूर अपने गांव ले गए.

20220802 122812 min

ये भी पढ़ें -: ‘महोदय, शादी के बाद ‘खुशखबरी’ के लिए 15 दिन की छुट्टी चाहिए…UP पुलिस के सिपाही का अनोखा आवेदन

वहीं इस मामले को लेकर जब शहडोल मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. मिलिंद शिरालकर से बात की गई तो उनका कहना था कि शव वाहन के बारे में उनसे किसी ने कोई मांग ही नहीं की.

सरकार ने 700 करोड़ रुपये खर्च कर आदिवासी जिले शहडोल में मेडिकल कॉलेज खोला था, ताकि जिले के आदिवासियों को बेहतर सुविधा मिल सके. हालांकि स्थानीय लोगों का कहनाहै कि यहां की व्यवस्था में न तो गरीबों को सही उपचार मिल पा रहा है, न मौत के बाद शव वाहन.

ये भी पढ़ें -: ‘लाल सिंह चड्ढा’ के बॉयकॉट पर आमिर खान ने तोड़ी चुप्पी, लोगों से की ये बड़ी अपील

ये भी पढ़ें -: साध्वी प्राची बोली- जब तक 100 करोड़ हिन्दू शांत है, तब तक ही वे सुरक्षित है, भड़के लोगों ने कह दी ये बात…

ये भी पढ़ें -: BJP सांसद बोले- मोदी जी 80 करोड़ लोगों को दे रहे फ्री फंड का खाना, लोगों ने कर दिया ट्रोल


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-