मध्य प्रदेश में मुर्दाबाद के नारे सुनकर भड़कीं BJP नेता इमरती देवी, कहने लगीं अपशब्द

मध्य प्रदेश में मुर्दाबाद के नारे सुनकर भड़कीं BJP नेता इमरती देवी, कहने लगीं अपशब्द
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

मध्य प्रदेश सरकार में पूर्व मंत्री रहीं इमरती देवी एक बार फिर से चर्चा में है। वैसे भी इमरती देवी अपने बयानों को लेकर चर्चा में बनी रहती हैं। दरअसल इमरती देवी के विधानसभा क्षेत्र में कुछ लोग उनके पहुंचने पर मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे, जिसे सुनते ही इमरती देवी भड़क गई और उन्होंने नारे लगाने वालों को कहा कि मार-मार कर तुम लोगों को राइट कर देंगे। घटना से जुड़ा हुआ वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इमरती देवी केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की समर्थक मानी जाती हैं। वायरल वीडियो के अनुसार वह अपनी विधानसभा डबरा तहसील के एक इलाके में भ्रमण करने के लिए पहुंची थी। इस दौरान कुछ नाराज लोगों ने उनकी गाड़ी को रास्ते में ही रोक लिया और मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे। इसके बाद इमरती देवी अपनी फॉर्च्यूनर कार से उतरती हैं और नारे लगाने वालों पर भड़क उठती हैं।

ये भी पढ़ें -: क्या डोनाल्ड ट्रंप परमाणु दस्तावेज वाइट हाउस से ले भागे थे? FBI ने मारा छापा

इमरती देवी नारे लगाने वालों को कहती हैं कि नारे क्यों लगा रहे हो? मार-मार के तुमको राइट कर देंगे। इमरती देवी इस दौरान वीडियो के आखिरी में गाली देते हुए भी सुनाई दे रही हैं और पुलिस से कहती हैं कि इनको पकड़ो और इन्हें डंडे मारो। पूरे वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि इमरती देवी गुस्से से लाल है और इस दौरान वहां अपना आपा खो बैठती हैं।

हाल ही में नगरीय निकाय चुनाव में इमरती देवी के समर्थकों ने बड़ी जीत दर्ज की है। शनिवार को पिछोर और बिलौआ नगर पंचायत अध्यक्ष चुनाव में इमरती देवी समर्थक नेता अध्यक्ष चुने गए। बिलौआ नगर पंचायत में इमरती देवी की समर्थक विजयलक्ष्मी चौरसिया निर्विरोध अध्यक्ष चुनी गईं।

ये भी पढ़ें -: नरसिंहानंद बोले- हिदुओं के दलाल मुसलमानों के आर्थिक बहिष्कार की बात करते हैं लेकिन जब इनकी सरकार…

वहीं पिछोर में इमरती देवी के समर्थक राजेश पांडा ने नवल भार्गव को 9 वोटों से शिकस्त दी। नवल भार्गव को नरोत्तम मिश्रा का करीबी बताया जाता है।

नवल भार्गव के समर्थक भी इमरती देवी के खिलाफ नारेबाजी करने लगे, जिससे नाराज होकर इमरती देवी ने सभी युवकों को पुलिस ने पकड़वा दिया। हालांकि कुछ देर बाद इमरती देवी के कहने पर युवकों को रिहा कर दिया गया। वहीं नवल भार्गव ने इमरती देवी पर पार्षदों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया। नवल भार्गव ने अपने फेसबुक पोस्ट में यह बात कही।

ये भी पढ़ें -: केरल के एक विधायक ने जम्मू-कश्मीर को लेकर की विवादित पोस्ट, राजद्रोह की शिकायत दर्ज

ये भी पढ़ें -: शिंदे गुट में बगावत की आशंका, संजय शिरसाट ने उद्धव की तारीफ की, 10 मिनट बाद ट्वीट डिलीट

ये भी पढ़ें -: सलमान रुश्दी पर हमले के बाद भड़कीं कंगना रनौत, हमलावर को बताया…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-