India

बेटी ने दूसरी जाति के लड़के से किया प्यार, परिजनों ने सिर मुंडवाकर जूते की माला पहनाई

20221021 105228 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

झारखंड के लोहरदगा में दूसरी जाति के लड़के से प्यार करने पर युवती को परिवार ने तुगलकी सजा दी. कुडू थाना क्षेत्र के सलगी ग्राम पंचायत में युवती को दूसरी जाति के लड़के से प्यार करने के आरोप में सिर के बाल काटने, चूने का टीका लगाने और जूते की माला पहनने की सजा दी गई. इसके बाद लड़की को पीटा भी गया. हालांकि इस मामले में थाने में कोई शिकायत दर्ज नहीं हुई है, क्योंकि लड़की के परिजनों ने ही उसके साथ ऐसा सलूक किया है.

अब कानूनी कार्रवाई के डर से मामले को अलग रंग देने की कोशिश हो रही है. इस बीच लड़की को परिजनों ने कहीं छिपा दिया है. थाना प्रभारी अभिनव कुमार का कहना है कि लड़की के सिर मूंडने की बात सामने आई है, लेकिन गांव में जुलूस निकालने की बात गलत है. लड़की 18 साल की है और बालिग है. घर पहुंचकर पुलिस ने लड़की और परिवारवालों से बात की है. परिजनों ने कहा कि बचपन में उसका मुंडन नहीं हुआ था इसलिए मुंडन किया गया.

वहीं, इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों ने बताया कि दूसरी जाति के लड़के से प्रेम करने के कारण लड़की का सिर मुंडवा दिया गया. कुछ ग्रामीणों और लड़की के कथित प्रेमी ने बताया कि चार-पांच सालों से दोनों का प्रेम संबंध हैं. दोनों अगल-बगल गांव के रहने वाले हैं.

ये भी पढ़ें -: भाई को टिकट देने के विरोध में बंदना ने दिया BJP महिला मोर्चा महामंत्री पद से इस्तीफा

जानकारी के मुताबिक, पहले भी लड़की प्रेमी के घर में रह चुकी है. वहीं, युवती के प्रेमी के घर होने की खबर मिलने के बाद परिजन जबरन उसे घर ले गए थे. कुछ ग्रामीणों ने बताया कि लड़की की जमकर पिटाई की गयी है और जब लड़की प्रेमी के साथ रहने की जिद पर अड़ी रही तो उसका सिर मुंडवा दिया गया और चूना का टीका लगाकर जूते-चप्पल की माला पहनाई गई.

पीड़ित लड़की इस घटना के बाद पूरी तरह से भयभीत है क्योंकि उसे काफी डराया-धमकाया भी गया है. आरोपों के मुताबिक, परिजनों ने लड़की को कहीं छिपा दिया है और उसे लोगों के सामने नहीं आने दिया जा रहा है.

वहीं, परिजनों ने अपनी गलती स्वीकार की है. लड़की के पिता का कहना है कि हम 40-45 लोग लड़की को वापस लाने गए थे. गांव के कुछ लड़के हमारे साथ थे, उन्होंने ही ऐसा काम किया है. अब परिजन कह रहे हैं कि सामाजिक रीति-रिवाज के साथ लड़की का विवाह करेंगे.

ये भी पढ़ें -: पंजा तोड़ यॉर्कर झेलने के बाद अब कैसे हैं गुरबाज, शाहीन अफरीदी खुद मिलने पहुंचे

ये भी पढ़ें -: क्या खट्टर सरकार के लिए सबसे बड़ा चुनावी इक्का बन गया है राम रहीम?


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-