Politics

बिहार में फ्लोर टेस्ट से ऐन पहले RJD के कई नेताओं पर CBI की रेड

20220824 151326 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के कई नेताओं के यहां CBI की रेड पड़ी है. इंडिया टुडे/आजतक को जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक RJD के विधान परिषद सदस्य (MLC) सुनील सिंह, सांसद अशफाक करीम, सांसद फयाज अहमद और पूर्व एमएलसी सुबोध राय के घरों पर CBI ने रेड मारी है. इसके अलावा बिहार स्टेट को-ऑपरेटिव मार्केटिंग यूनियन लिमिटेड (BISCOMAUN या बिस्कोमान) से जुड़ी जगहों पर भी CBI ने छापेमारी की है.

बताया गया है कि CBI ने जमीन लेकर रेलवे में नौकरी देने से जुड़े घोटाले (Land for railway jobs scam) के सिलसिले में ये कार्रवाई की है. ये मामला उस समय का है जब RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) कांग्रेस के नेतृत्व वाली UPA सरकार में रेल मंत्री थे. केंद्रीय जांच एजेंसी ने बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली महागठबंधन सरकार के बहुमत सिद्ध करने से ऐन पहले ये कार्रवाई की है. जाहिर है RJD ने इसे सीधे BJP से जोड़ दिया है.

ये भी पढ़ें -: रामदेव पर एलोपैथ डॉक्टरों के ख़िलाफ़ बोलने को लेकर SC ने उठाए सवाल, पतंजलि को भी नोटिस

छापेमारी की खबर आते ही पार्टी के राज्यसभा सदस्य मनोज झा ने कहा – “ये कहने का कोई मतलब नहीं है कि ED या IT (इनकम टैक्स विभाग) या CBI रेड मारते हैं, ये BJP की रेड है. वे सब अब BJP के लिए काम करते हैं. उनके कार्यालय BJP की स्क्रिप्ट पर चलते हैं. आज (बिहार विधानसभा में) फ्लोर टेस्ट होना है और क्या हो रहा है? ये तो अब आसानी से बताने वाली बात हो गई है.

वहीं RJD MLC संजय ने कहा – “ये सब जानबूझकर किया जा रहा है. इसका कोई मतलब नहीं है. वे ये सोचकर ये सब कर रहे हैं कि विधायक डर के मारे उनके पक्ष में आ जाएंगे. BJP की तरफ से भी इस पर प्रतिक्रिया आई है. पार्टी के विधायक इस समय बिहार विधानसभा के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान पूर्व डेप्युटी सीएम और विधायक तारकिशोर प्रसाद ने कहा – “हम यहां विधानसभा सत्र के लिए आए हैं… जहां तक रेड पड़ने की बात है तो ये (CBI) एक स्वतंत्र एजेंसी है जो अपना काम कर रही है. मैं इस पर कुछ नहीं कहूंगा.

ये भी पढ़ें -: वृंदावन में DM का चश्मा छीनकर ले गए बंदर, वापस पाने के लिए पुलिस वालों को करना पड़ा ये काम

हालांकि तारकिशोर ने ये भी कहा – “उन्होंने (नीतीश कुमार) जिस तरह का काम किया, उसकी उन्हें सजा जरूर मिलेगी. (रेड के लिए) आज ही का दिन क्यों चुना गया ये बात CBI आपको बताएगी. बिहार विधानसभा एक संवैधानिक संस्था है, एक मंदिर है. यहां जो भी किया जाएगा नियमों के तहत किया जाएगा.

इस बीच एमएलसी सुनील सिंह के समर्थक उनके घर के बाहर इकट्ठा हो गए. उन्होंने CBI की कार्रवाई के खिलाफ प्रदर्शन किया. लेफ्ट के विधायक भी बिहार विधानसभा के बाहर पहुंच कर स्पीकर विजय कुमार सिन्हा के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे. एएनआई के मुताबिक इन विधायकों ने कहा कि रेड के जरिये विधायकों को डराने की साजिश काम नहीं करेगी.

ये भी पढ़ें -: गायक रब्बी शेरगिल बिलकिस बानो से बोले- पंजाब आओ, सरदार तुम्हारी रक्षा करेंगे

ये भी पढ़ें -: NDTV के फाउंडर बोले- बिना हमारी सहमति के 29% ले लिया गया, हम वही पत्रकारिता जारी रखेंगे

ये भी पढ़ें -: लाल सिंह चड्ढा ने विदेशों में की ताबड़तोड़ कमाई- तोड़ा ‘भूल भुलैया 2’ का रिकॉर्ड


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-