Politics

बिलकिस बानो केस पर रो पड़ीं BJP नेता, बोली- पीएम चुप क्यों हैं?

20220825 122314 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

बिलकिस बानो (Bilkis Bano) केस में दोषियों की रिहाई पर एक्ट्रेस और तमिलनाडु की भाजपा ने नेता खुशबू सुंदर ने नाराज़गी जताई है. रिहाई के फैसले को गलत बताते हुए खुशबू ने कहा कि ये सब देखकर बहुत गुस्सा आता है. खुशबू से पहले महाराष्ट्र (Maharashtra) के डिप्टी सीएम देवेन्द्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने भी कहा था कि दोषियों का स्वागत- सत्कार करना, माला पहनाकर सम्मानित करना बिल्कुल जायज़ नहीं है.

इंडिया टुडे टीवी पर राजदीप सरदेसाई के शो में बिलकिस बानो केस पर बात करते हुए खुशबू सुंदर भावुक हो गईं. उन्होंने नेताओं की चुप्पी पर सवाला उठाया. उन्होंने कहा – “इस मुद्दे पर कोई पॉलिटिक्स है ही नहीं. एक महिला और एक बच्ची की मां के तौर पर पहले बिलकिस बानो के साथ खड़ी हूं. यहां मैं कोई नेता नहीं हूं. न ही किसी पार्टी का प्रतिनिधित्व करती हूं. एक महिला होने के नाते मैं ये स्वीकार नहीं कर पा रही हूं कि 11 दोषियों की माफी नीति के तहत रिहाई हुई है. ये सब देखकर दिल दुखता है और मुझे बहुत गुस्सा आ रहा है. दोषियों का जिस तरह माला पहनाकर स्वागत किया गया, इससे ज़्यादा शर्मिंदगी की बात कुछ नहीं हो सकती. सबसे ज़्यादा यही देखकर गुस्सा आता है कि हम एक देश के तौर पर कहां जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें -: रवीश कुमार ने किया NDTV से इस्तीफ़ा देने का खंडन, बोले- ये बात उसी तरह अफ़वाह है, जैसे PM मोदी मुझे…

खुशबू ने माफी नीति पर भी सवाल उठाए जिसके तहत दोषियों को रिहा किया गया था. खुशबू ने कहा – “अगर ऐसे लोगों को माफी नीति के तहत रिहाई मिल रही है तो कानून क्या कर रहा है? क्या किसी औरत का बलात्कार करना ठीक है? क्या उसके परिवार के 14 लोगों की हत्या करना ठीक था? क्या उसकी तीन साल की बच्ची की हत्या जायज़ है? खुशबू का कहना है कि उनकी ये बात भाजपा की आधिकारिक राय के खिलाफ भी हो सकता है. लेकिन उन्होंने देवेन्द्र फडणवीस और पार्टी के कई नेताओं को इसके खिलाफ आवाज़ उठाते सुना है. उनका कहना है- “ भारत के प्रधानमंत्री नारी शक्ति और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के बारे में आए दिन बात करते हैं. मैं चाहती हूं कि मेरी पार्टी बिलकिस बानो के मुद्दे पर सामने आए और कहे कि ये स्वीकार्य नहीं है . पार्टी के नेता इसपर आकार कहें कि ये गलत है.

राजदीप ने खुशबू को टोकते हुए कहा कि आप पार्टी के बाकी नेताओं से उम्मीद कर रही हैं लेकिन अभी तक शीर्ष नेताओं की तरफ से कोई बयान नहीं आया. स्मृति ईरानी ने कुछ नहीं कहा. टीवी डिबेट पर आने वाले प्रवक्ता इस बातचीत का हिस्सा ही नहीं बन रहे. क्या उन्हें वोट बैंक की चिंता है? इस सवाल के जवाब में खुशबू ने कहा – “मुझे नहीं पता ये पॉलिटिक्स की बात है या क्या वजह है. लेकिन हमें इस मुद्दे पर एक साथ आना चाहिए. सभी महिलाओं को एकजुट होकर आवाज़ उठानी चाहिए. बिलकिस को क्या कभी चैन की नींद आ पाएगी? अगर आज मैं बिलकिस के साथ खड़ी नहीं होती, तो मैं एक महिला और एक मां होने के नाते फेल हो जाऊंगी.

ये भी पढ़ें -: बिहार में फ्लोर टेस्ट से ऐन पहले RJD के कई नेताओं पर CBI की रेड

खुशबू ये कहते हुए भावुक हो गईं और रो पड़ीं. उन्होंने कहा – “निर्भया के वक्त पूरा देश एक हो गया था. मुझे नहीं पता अब लोग क्यों नहीं सामने आकार कुछ कह रहे. उन्हे सच बोलने से कौन रोक रहा है मुझे नहीं पता. शायद उन्हे दर्द नहीं महसूस हो रहा. शायद उन्हें लग रहा है कि चुप रहकर उनका काम बन जाएगा. खुशबू ने कहा कि बिलकिस बानो केस किसी धर्म या राजनीति का मसला नहीं है. इस मुद्दे पर लोग एकजुट नहीं दिख रहे, उनकी नाराज़गी दिखनी चाहिए. सभी महिलाओं को इस मुद्दे पर सामने आना चाहिए. उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया कि ये किसी पार्टी के खिलाफ खड़े होने की बात नहीं है, ये एक महिला का साथ देने की बात है. शो में ये आखिरी लाइन कहते हुए खुशबू की आंखों में फिर आंसू आ गए.

15 अगस्त को गुजरात सरकार ने अपनी माफी नीति का हवाला देते हुए बिलकिस बानो गैंगरेप के 11 दोषियों को जेल से रिहा कर दिया था. इन दोषियों को उम्रकैद की सज़ा हुई थी, दोषियों को रिहा करते हुए गुजरात सरकार ने तर्क दिया था कि वो जेल में 14 साल काट चुके थे और जेल में उनका व्यवहार अच्छा था. जिस स्पेशल कोर्ट ने बिलकिस बानो के दोषियों के सज़ा सुनाई थी, उसके जज की राय रिहाई के खिलाफ थी. इसके बाद भी गुजरात सरकार ने दोषियों को जेल से छोड़ दिया. दोषियों की रिहाई के गुजरात सरकार के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है. उससे जुड़े अपडेट्स भी हम आप तक पहुंचाते रहेंगे.

ये भी पढ़ें -: बिलकिस के बलात्कारियों को सजा देने वाले जज बोले- सरकार ने अपराध की गंभीरता को नहीं देखा

ये भी पढ़ें -: ED ने सिसोदिया के खिलाफ केस दर्ज करने की खबर का किया खंडन, संजय सिंह ने PM मोदी पर कसा तंज

ये भी पढ़ें -: कन्हैया कुमार का तंज- जय शाह तो UPSC का एग्जाम देकर बने हैं BCCI सेक्रेटरी


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-