Politics

निशिकांत दुबे और मनोज तिवारी पर FIR, लगे है ये आरोप, जानें पूरा मामला…

20220903 230407 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

झारखंड पुलिस ने BJP सांसद निशिकांत दुबे और मनोज तिवारी के खिलाफ केस दर्ज किया है. बीजेपी सांसदों पर आरोप है कि वे देवघर एयरपोर्ट में बिना अनुमति के ATC के अंदर घुस गए और उन्होंने जबरन ATC क्लीयरेंस ले लिया. ATC यानी एयर ट्रैफिक कंट्रोल. सांसद और अन्य लोगों के खिलाफ देवघर एयरपोर्ट के सिक्योरिटी इंचार्ज सुमन आनन ने FIR दर्ज करवाई है. एयरपोर्ट की सुरक्षा मानकों के उल्लंघन का भी आरोप लगा है. देवघर के कुंडा थाने में सांसद समेत कुल 9 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. ये मामला 31 अगस्त का है. बीजेपी नेताओं की एक टीम दुमका पीड़िता के परिवारवालों से मिलने झारखंड पहुंची थी. FIR के मुताबिक, ये सभी दिल्ली से दोपहर एक बजे एक चार्टर्ड प्लेन से देवघर एयरपोर्ट पहुंचे थे. फिर उसी शाम वापसी के लिए करीब 5 बजकर 25 मिनट पर वे सभी एयरपोर्ट पहुंचे. देवघर एयरपोर्ट में नाइट टेकऑफ या लैंडिंग की सुविधा अब तक शुरू नहीं हुई है.

FIR में कहा गया है कि इसी वजह से कम विजिबिलिटी और खराब मौसम की स्थिति में विमान को ATC मंजरी देना संभव नहीं था. FIR में कहा गया कि 31 अगस्त को देवघर में सूर्यास्त का समय 6 बजकर 3 मिनट था. और ऐसी स्थिति में साढ़े 5 बजे तक ही एयरक्राफ्ट का संचालन किया जाता है. सुमन आनन ने FIR में कहा है – “जब मैं ATC के कंट्रोल रूम पहुंचा तो वहां एयरपोर्ट के डायरेक्टर संदीप ढींगरा और चार्टर्ड प्लेन के पायलट पहले से मौजूद थे. पायलट ATC कर्मचारियों पर दबाव बना रहा था प्लेन के यात्रियों को आज ही वापस जाना जरूरी है इसलिए क्लीयरेंस दिया जाए. कुछ ही देर में ATC रूम में निशिकांत दुबे, उनके दोनों बेटे और सांसद मनोज तिवारी भी पहुंच गए. वे सभी क्लीयरेंस देने के लिए दबाव बना रहे थे. थोड़ी देर बाद उन्हें ATC क्लीयरेंस मिल गया. और वे चार्टर्ड प्लेन से रवाना हो गए.

ये भी पढ़ें -: रेप के आरोपी महंत के समर्थन में उतरे BJP नेता बीएस येदियुरप्पा, कही ये बात…

शिकायत के मुताबिक, सांसद और अन्य लोग एयरपोर्ट के सुरक्षा मानकों का उल्लंघन करते हुए ATC रूम में घुस गए. नाइट ऑपरेशन की सुविधा नहीं होने के बावजूद, यात्रियों की जान की सुरक्षा को नजरअंदाज करते हुए ATC क्लीयरेंस के लिए दबाव बनाया गया. एक सिंतबर को मामले की FIR दर्ज करवाई गई. शिकायत दर्ज करवाने वाले सुमन आनन देवघर एयरपोर्ट के डीएसपी हैं. जिन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है उनमें देवघर एयरपोर्ट के डायरेक्टर संदीप ढींंगरा का भी नाम शामिल है. FIR में चार्टर्ड प्लेन के पायलट, बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे, उनके दो बेटे कनिष्क कांत दुबे और माहिकांत दुबे, सांसद मनोज तिवारी, मुकेश पाठक, देवता पाण्डेय, पिंटु तिवारी का नाम भी शामिल है.

इस पूरे मामले को लेकर निशिकांत दुबे और देवघर के जिलाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री ट्विटर पर भी भिड़ गए. 2 सितंबर की रात दोनों के बीच एक लंबी बहस देखने को मिली. दरअसल, निशिकांत दुबे ने डीसी के एयरपोर्ट के अंदर जाने और CCTV देखने पर सवाल उठा दिया. इस पर मंजूनाथ भजंत्री ने जवाब दिया कि वे एंट्री पास लेने के बाद एयरपोर्ट टर्मिनल के अंदर गए थे. साथ ही उन्होंने कहा कि डीसी भी देवघर एयरपोर्ट के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में एक हैं. निशिकांत दुबे ने डीसी पर आरोप लगाया कि उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा का उल्लंघन कर दिया है. उन्होंने दावा किया कि वे एयरपोर्ट अधिकारियों से जरूरी अनुमति के बाद एटीसी रूम में गए थे. दुबे ने यह भी कहा कि वे नाइट लैंडिंग की सुविधा में देरी को लेकर डीसी के खिलाफ हाई कोर्ट में केस भी लड़ रहे हैं. इस पर डीसी ने जवाब दिया…

ये भी पढ़ें -: संस्कृत को राष्ट्रभाषा घोषित करने की मांग पर बोला SC- आप एक लाइन ही सुना दो, खारिज की याचिका

“माननीय सांसद सर, नाइट लैंडिंग का मामला कोर्ट के अधीन है. इस पर कमेंट नहीं करूंगा. लेकिन जब वहां नाइट लैंडिंग की सुविधा नहीं है और इसके कारण हर दूसरे दिन कई फ्लाइट रद्द होती हैं तो आपका चार्टर्ड प्लेन 6 बजकर 17 मिनट पर कैसे टेकऑफ कर गया. जबकि सूर्यास्त का समय 6 बजकर 3 मिनट था.

झारखंड के गोड्डा से सांसद निशिकांत दुबे ने इस मामले को लेकर आजतक से बातचीत की. उन्होंने खुद को एयरपोर्ट की एडवाइजरी कमिटी का अध्यक्ष बताते हुए कहा कि वो एटीसी रूम में जा सकते हैं. उन्होंने कहा कि सांसद मनोज तिवारी सिविल एविएशन कमेटी के मेंबर हैं. निशिकांत दुबे ने पूरे मामले को दुमका मर्डर केस से जोड़ते हुए कहा कि पीड़िता के परिवार से मिलने के कारण हेमंत सोरेन इतना बौखला गए कि पूरा सिस्टम ही गाली देने लगा. उन्होंने कहा कि “झारखंड के इस्लामीकरण” से पीड़ित परिवार के इंसाउ की लड़ाई केस-मुकदमे से बंद नहीं होगी.

ये भी पढ़ें -: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर भड़के विवेक अग्निहोत्री, दुख जताते हुए लिखा- हमें आपने एक बार फिर…

ये भी पढ़ें -: जितेंद्र त्यागी ने किया सरेंडर, बोले- सनातन धर्म अपनाकर लड़ाई में अकेला हो गया हूं


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-