Politics

नरसिंहानंद ने महात्मा गांधी पर की अभद्र टिप्पणी, गाजियाबाद पुलिस ने इन धाराओं में दर्ज किया केस

20220716 194649 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Mahatma Gandhi News: गाजियाबाद के डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद अपने भड़काउ और विवादित बयानों के चलते सुर्खियों में रहते हैं. इस बार यति नरसिंहानंद ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की है. जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो वायरल होने के बाद गाजियाबाद पुलिस हरकत में आई गई और वीडियो के आधार पर मसूरी थाने की पुलिस ने यति नरसिंहानंद के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. महंत यति नरसिंहानंद डासना के देवी मंदिर के महंत के साथ साथ जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर भी हैं.

इस वीडियो में महंत ने महात्मा गांधी राष्ट्रपिता के लिए बेहद ही अभद्र भाषा का प्रयोग किया है. टिप्पणी के जरिए महात्मा गांधी को ‘हिंदू विरोधी’ साबित करने की पुरजोर कोशिश की है. वीडियो में यति नरसिंहानंद कह रहे है ‘महात्मा गांधी के कारण ही संत और महात्मा आज जेल जाने के लिए मजबूर हैं. इतना ही नहीं उन्होंने वीडियो में ये तक कह दिया कि महत्मा गांधी अंग्रेजों का दलाल था.’ साथ ही उनको लेकर महिलाओं के लिए बेहद ही अभद्र टिप्पणी की है.

ये भी पढ़ें -: BJP के पूर्व सांसद बोले- मेरी PHD का आधे अधूरे शिक्षित मोदी भक्त मुकाबला नहीं कर सकते

गाजियाबाद के एसपी देहात डॉ. ईरज राजा ने बताया कि वीडियो के वायरल होने की जानकारी मिलते है वीडियो की जांच कराई गई. जिससे साफ हो गया कि वीडियो यति महंत नरसिंहानंद का ही है. वीडियो को संज्ञान लेने के बाद केस दर्ज किया गया है. इस केस की तहरीर यूपी पुलिस में तैनात दरोगा राम सेवक ने दी है. ये विवादित वीडियो 13 जुलाई की रात को ट्वीट किया गया है.

गाजियाबाद पुलिस ने इस केस में झूठ बोलकर दो समुदायों के बीच नफरत फैलाने की धारा लगाई है. एसपी देहात ईरज राजा का कहना है कि वीडियो की जांच की जा रही है. इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी. ये कोई पहले मामला नहीं है जब यति नरसिंहानंद पर विवादित बयान के चलते मुकदमा दर्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें -: यशवंत सिन्हा का दावा- नीतीश कुमार ने एक भी बार मेरा फोन नहीं उठाया औऱ…

नरसिंहानंद अपने बयान पर कायम
यति नरसिंहानंद पर गाजियाबाद के अलावा दिल्ली और उत्तराखंड में 18 मुकदमे दर्ज हैं. जिसमें बलवा, धार्मिक भावनाओं को भड़काने, विवादित बयान देने, आत्महत्या के लिए उकसाने और अन्य 18 मामले दर्ज हैं.

यह मुकदमे महाराष्ट्र, गाजियाबाद, हरिद्वार, दिल्ली के थानों में दर्ज किए गए हैं. लेकिन ये सभी मामले लगभग विचाराधीन हैं. इस नए मुकदमे के बाद जहां गाजियाबाद पुलिस जल्द करवाई करने की बात कर रही है. वहीं दूसरी ओर यति नरसिंहानंद अपने बयान पर कायम है.

ये भी पढ़ें -: पूर्व IAS सूर्य प्रताप सिंह का तंज- रुपये पर छपा शेर डॉलर को कब दांत दिखाएगा?

ये भी पढ़ें -: राष्ट्रपति चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी ने लिया बड़ा फैसला, इस उम्मीदवार को देगी समर्थन


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-