India

दीवाली से पहले निजामुद्दीन दरगाह पहुंचे RSS नेता इंद्रेश कुमार, टेका मत्था

20221023 130807 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

दीवाली से पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के राष्ट्रीय कार्यकारी सदस्य और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार ने शनिवार को हजरत निजामुद्दीन दरगाह, नई दिल्ली का दौरा किया और परिसर के अंदर मिट्टी के दीये जलाए. इसके साथ ही आरएसएस की मुस्लिम शाखा, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने देश में शांति और समृद्धि का आह्वान किया. आरएसएस के नेताओं ने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संरक्षक और आरएसएस के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार का निजामुद्दीन दरगाह परिसर के अंदर ‘मिट्टी के दीये’ जलाना शांति, समृद्धि और सांप्रदायिक सद्भाव का संदेश देता है.

आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार शनिवार को दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन दरगाह पहुंचे. उन्होंने सूफी संतों की दरगाह पर फूल और चादर भी चढ़ायी. उन्होंने कहा कि दीपावली का त्यौहार भारत सहित दुनिया में मनाया जाता है. यह हर घर में सुख और समृद्धि लाता है. यह त्यौहार सभी धार्मिक मतभेदों और प्रांतों के बीच के मतभेदों को मिटा देता है. इंद्रेश कुमार ने कहा कि भारत तीर्थों, त्योहारों और मेलों की भूमि है. सभी वे गरीबों को रोटी देते हैं और आपस में भाईचारा बढ़ाते हैं. उन्होंने कहा कि हर त्योहार हमें सिखाता है कि हमें कट्टरता, द्वेष, नफरत, दंगे या युद्ध नहीं चाहिए. हम शांति, सद्भाव और भाईचारा चाहते हैं.

उन्होंने कहा कि किसी को भी धर्म परिवर्तन और हिंसा करने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए. सभी को अपने धर्म और जाति का पालन करना चाहिए. दूसरे के धर्मों की आलोचना और अपमान न करें. जब देश में सभी धर्मों का सम्मान किया जाएगा, तो देश पत्थर फेंकने वाले कट्टरपंथियों से मुक्त होगा. भारत एकमात्र ऐसा देश है जो सभी धर्मों का सम्मान करता है और स्वीकार करता है. इससे पहले, सितंबर में इंद्रेश कुमार आरएसएस नेता मोहन भागवत के साथ अखिल भारतीय इमाम संगठन के मुख्य इमाम डॉ उमर अहमद इलियासी से मिलने गए थे. आरएसएस प्रमुख ने उस दिन की शुरुआत में राष्ट्रीय राजधानी में एक मस्जिद और मदरसे का भी दौरा भी किया किया था.

ये भी पढ़ें -: सचिन ने बताया शाहीन अफरीदी का तोड़, पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय बल्लेबाजों को दिया ये मंत्र…

दीवाली से पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के राष्ट्रीय कार्यकारी सदस्य और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार ने शनिवार को हजरत निजामुद्दीन दरगाह, नई दिल्ली का दौरा किया और परिसर के अंदर मिट्टी के दीये जलाए. इसके साथ ही आरएसएस की मुस्लिम शाखा, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने देश में शांति और समृद्धि का आह्वान किया. आरएसएस के नेताओं ने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संरक्षक और आरएसएस के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार का निजामुद्दीन दरगाह परिसर के अंदर ‘मिट्टी के दीये’ जलाना शांति, समृद्धि और सांप्रदायिक सद्भाव का संदेश देता है.

आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार शनिवार को दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन दरगाह पहुंचे. उन्होंने सूफी संतों की दरगाह पर फूल और चादर भी चढ़ायी. उन्होंने कहा कि दीपावली का त्यौहार भारत सहित दुनिया में मनाया जाता है. यह हर घर में सुख और समृद्धि लाता है. यह त्यौहार सभी धार्मिक मतभेदों और प्रांतों के बीच के मतभेदों को मिटा देता है. इंद्रेश कुमार ने कहा कि भारत तीर्थों, त्योहारों और मेलों की भूमि है. सभी वे गरीबों को रोटी देते हैं और आपस में भाईचारा बढ़ाते हैं. उन्होंने कहा कि हर त्योहार हमें सिखाता है कि हमें कट्टरता, द्वेष, नफरत, दंगे या युद्ध नहीं चाहिए. हम शांति, सद्भाव और भाईचारा चाहते हैं.

उन्होंने कहा कि किसी को भी धर्म परिवर्तन और हिंसा करने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए. सभी को अपने धर्म और जाति का पालन करना चाहिए. दूसरे के धर्मों की आलोचना और अपमान न करें. जब देश में सभी धर्मों का सम्मान किया जाएगा, तो देश पत्थर फेंकने वाले कट्टरपंथियों से मुक्त होगा. भारत एकमात्र ऐसा देश है जो सभी धर्मों का सम्मान करता है और स्वीकार करता है. इससे पहले, सितंबर में इंद्रेश कुमार आरएसएस नेता मोहन भागवत के साथ अखिल भारतीय इमाम संगठन के मुख्य इमाम डॉ उमर अहमद इलियासी से मिलने गए थे. आरएसएस प्रमुख ने उस दिन की शुरुआत में राष्ट्रीय राजधानी में एक मस्जिद और मदरसे का भी दौरा भी किया किया था.

ये भी पढ़ें -: भड़’काऊ भाषणों पर सुप्रीम कोर्ट की पुलिस को फटकार, कहा- एक्शन नहीं लिया तो…

ये भी पढ़ें -: आयुष्मान कार्ड में फ’र्जीवाड़ा, अस्पताल पहुंचते ही पता चली ये बात…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-