दादी के कुंडल लेकर भाग रहे थे बदमाश, अकेले भिड़ गई रिया… CCTV में कैद हुई घटना

दादी के कुंडल लेकर भाग रहे थे बदमाश, अकेले भिड़ गई रिया… CCTV में कैद हुई घटना
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

गाजियाबाद के मोदीनगर की रिया की बहादुरी के चर्चे इस समय खूब हो रहे हैं। जनता से लेकर प्रशासन तक हर किसी की जुबान पर रिया का ही नाम है। इसका कारण है रिया का बिना डरे बदमाशों से भिड़ना। घटना मेरठ के लालकुर्ती इलाके की है। जहां दो बाइक सवार बदमाशों ने रिया की दादी के कुंडल छी लिए और भागने लगे, तभी रिया अपनी दादी के कुंडलो के खातिर अकेली ही बदमाशों से भिड़ गई। रिया चोर-चोर चिल्लाती रही, लेकिन मदद के लिए कोई भी सामने नहीं और बदमाश किसी तरह वहां से भाग गए, लेकिन रिया बदमाशों से आधा कुंडल छीन लिया। वहीं, शनिवार देर रात पुलिस ने बदमाशों को मुठभेड़ के बाद पकड़ लिया, जिनमे एक बदमाश के पैर में गोली भी लगी है।

मेरठ के थाना लालकुर्ती क्षेत्र के मैदा मोहल्ले में वरुण अग्रवाल का परिवार रहता है। शनिवार शाम मोदीनगर निवासी वरुण की दादी संतोष अपनी पोती रिया अग्रवाल के साथ उनके घर आ रही थी। घर से चंद कदमों की दूरी पर एक बाइक पर दो बदमाश पीछे से आए और उन्होंने रिया की दादी संतोष के कान पर झपट्टा मारकर कुंडल खींच लिया।

दादी के कुंडल छिनता देख रिया बदमाशों से भिड़ गई और चोर-चोर चिल्लाते हुए बदमाशों को दो बार चलती बाइक से गिरेबान पकड़ लिया। उसके बाद भी कोई रिया की मदद के लिए आगे नहीं आया। रिया ने एक कुंडल का आधा भाग भी छीन लिया था, लेकिन बदमाश रिया का धक्का देते हुए भाग गए। रिया की इस बहादुरी की घटना एक मकान पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई और वो अब वायरल हो गई।

ये भी पढ़ें -: दिल्ली BJP अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने पद से दिया इस्तीफा, ये बने कार्यकारी अध्यक्ष…

रिया की बदमाशों के साथ भिड़ते हुए वीडियो जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और जनता कानून व्यवस्था पर उंगलियां उठाने लगी अधिकारियों ने रिया से बात की और आश्वासन दिया कि जल्दी ही बदमाशों को पकड़ लेंगे।

रिया ने बताया कि दादी के कुंडल दादा की एक मात्र निशानी थे और दादी के कानों से खून निकलता देख न जाने कहां से हिम्मत आई और वो दादा की निशानी के लिए बदमाशों से भिड़ गई, जब रिया से पूछा कि जान की परवाह नहीं थी तो रिया ने कहा कि उस वक्त कुछ नहीं सूझ रहा था। हां, अफसोस ये रहा कि मदद के लिए कोई सामने नहीं आया। अगर आया होता तो बदमाश उसी वक्त पकड़े जाते।

लालकुर्ती पुलिस ने महिला से कुंडल लूटने वाले बदमाशों को देर रात मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। रात करीब 12:30 बजे लालकुर्ती पुलिस पुलिस ने बूचरी रोड पर दोनों की घेराबंदी कर ली। दोनों ने पुलिस पर फायरिंग की। जवाबी फायरिंग में दोनों के पैर में गोली लगी। आरोपियों की पहचान सचिन निवासी पल्लव पुरम और शिवम कंकरखेड़ा के रूप में हुई है।

ये भी पढ़ें -: मंत्री जी ने छात्रों के सामने खोली खुद की पोल, बोले- नकल से 10वीं पास की, मैं चीटिंग करने में PHD हूं

ये भी पढ़ें -: ईशान किशन के दोहरे शतक पर गर्लफ्रेंड हुवी गदगद, फोटो शेयर कर इस तरह दी बधाई


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-