World

ट्रंप के आवास पर रेड में 14 बक्सों में अमेरिकी सुरक्षा से जुड़े सीक्रेट डाक्यूमेंट्स बरामद: FBI

20220827 121539 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Donald Trump: एफबीआई (FBI) ने शुक्रवार को खुलासा किया कि डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के फ्लोरिडा स्थित उनके घर पर की हुई रेड में 15 बॉक्स मिले हैं. इन बक्सों में से 14 में अमेरिका (America) सुरक्षा से संबंधित सीक्रेट डॉक्यूमेंट्स (Secret Documents) बरामद किए गए हैं.

एफबीआई ने शुक्रवार को एक हलफनामा जारी कर डोनाल्ड ट्रंप के ‘मार-ए-लागो रिसॉर्ट’ में की गई छापेमारी को लेकर स्पष्टीकरण भी दिया. 32 पेज के हलफनामे में आपराधिक जांच संबंधित कई जानकारी दी गई हैं. FBI ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप ने अपने मार-ए-लागो रिसॉर्ट में दर्जनों गोपनीय दस्तावेज रखे थे जिनमें टॉप सीक्रेट खुफिया जानकारी भी शामिल है.

ये भी पढ़ें -: राजस्थान छात्रसंघ चुनाव: लड़कियों का वोट लेने के लिए पैरों में गिरे छात्र नेता, वीडियो वायरल

संशोधित हलफनामा जारी
जारी किए गए हलफनामे में जांच से संबंधित कई जरूरी डिटेल्स दी गई हैं हालांकि एफबीआई अधिकारियों ने गवाहों की पहचान उजागर ना हो और जांच के तौर-तरीकों का भी पता ना चल सके इसके लिए इसमें कुछ संशोधन भी किए हैं. एफबीआई ने ट्रंप के आवास पर छापे के लिए वारंट हासिल करने के लिए ये हलफनामा एक न्यायाधीश को दिया था.

हलफनामा 15 बॉक्स के मैटिरियल के शुरुआती बैच पर नई रोशनी डालता है जिसे ट्रंप ने न्याय विभाग के अधिकारियों के साथ महीनों की सौदेबाजी के बाद जनवरी में अमेरिकी सरकार को सौंप दिया था.

ये भी पढ़ें -: 15 अगस्त को जो अधिकारी हुआ सम्मानित, आज वही रिश्वत लेते गिरफ्तार

हलफनामे के अनुसार, उन बक्सों को एक साल से अधिक समय तक एक गैर-सुरक्षित कमरे में रखा गया था. उनमें 184 गोपनीय दस्तावेज थे, जिनमें से 25 को गुप्त रखा गया था. उनके कंटेंट के विश्लेषण ने न्याय विभाग में अलार्म बजा दिया और फिर एफबीआई ने 8 अगस्त को ट्रंप के फ्लोरिडा के पाम बीच में मार-ए-लोगों रिसॉर्ट पर रेड डाली थी. इसमें काफी संख्या में सीक्रेट डॉक्यूमेंट्स वाले बक्से बरामद किए गए. वहीं 2024 की तैयारियों में जुटे ट्रंप ने एफबीआई की रेड की कड़ी आलोचना की है.

ये भी पढ़ें -: गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस पार्टी के सभी पदों से दिया इस्तीफा, 5 पन्नों के खत में छलका दर्द, पढ़ें विस्तार से

ये भी पढ़ें -: गिरिराज सिंह का आरोप- बिहार में स्लीपर सेल और शरिया कानून स्थापित करना चाहते हैं नीतीश कुमार

ये भी पढ़ें -: राज ठाकरे की मुश्किलें बढ़ीं, भड़काऊ भाषण मामले में औरंगाबाद कोर्ट में चार्जशीट दाखिल


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-