India

ज़ी न्यूज़ एंकर को SC ने बिना याचिका ही दे दी सुनवाई की तारीख, लोग करने लगे ऐसी बातें…

20220707 083131 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के एक बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश करने के मामले में जी न्यूज के एंकर रोहित रंजन ने सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए हैं। इस मामले को 6 जुलाई यानी बुधवार को आकाशकालीन बेंच के सामने रखा गया था। इस दौरान पता चला कि बिना याचिका दायर करे ही सुनवाई की तारीख दे दी गई है। जिसको लेकर सोशल मीडिया पर लोग कई तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

जज ने लगाई फटकार : रोहित रंजन के मामले में जब उनके वकील कोर्ट पहुंचे तो जजों ने जल्दबाजी में ही गुरुवार को सुनवाई की तारीख दे दी लेकिन बाद में वकीलों ने कोर्ट में बताया कि अभी तो रोहित रंजन की ओर से याचिका भी नहीं लगाई गई है। इस पर रोहित रंजन के सीनियर एडवोकेट सिद्धार्थ लूथरा को फटकार लगाते हुए जज ने कहा कि इस बारे में जानकारी देनी चाहिए थी।

ये भी पढ़ें -: Zee News के एंकर रोहित रंजन फरार हैं, रायपुर के SP बोले – पंचनामा तैयार, हमारी टीम खोज रही है

सोशल मीडिया पर रिएक्शन : अलीशान जाफरी नाम के एक यूजर ने अपनी सोशल मीडिया हैंडल से लिखा – यह रोहित रंजन और ज़ुबैर के बीच का अंतर है। लवानिया बल्लाल नाम की एक यूजर लिखती हैं, ‘ न्यायपालिका द्वारा दो पत्रकार और दो अलग-अलग प्रतिक्रियाएं।’ कांग्रेस नेत्री नगमा ने सवाल किया कि इस मामले को प्राथमिकता देने के लिए सुप्रीम कोर्ट में इतने मामले होने के बावजूद भी रोहित रंजन पर क्यों मेहरबान हो गया?

मंजूल नाम की एक यूजर कमेंट करते हैं कि कोर्टरूम ड्रामा इसे कहते हैं। फैजान अंसारी नाम के ट्विटर यूजर द्वारा लिखा गया, ‘ बिना याचिका दायर किये ही कि सुप्रीम कोर्ट ने जी न्यूज के एंकर रोहित रंजन को तारीख दे दी है। देख लीजिए पहुंच क्या होती है? आप गिरफ्तारी का ख्वाब देख रहे हैं? जावेद मलिक नाम के एक ट्विटर यूजर ने कमेंट किया कि देश में गजब का ही खेल चल रहा है। ताहिर खान नाम के एक यूजर ने लिखा – जज साहब तो बहुत ही जल्दबाजी में दिखाई दे रहे हैं, मसला क्या है?

ये भी पढ़ें -: मुख्तार अब्बास नकवी के बाद अब आरसीपी सिंह ने भी दिया केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा

जानिए पूरा मामला : ज़ी न्यूज के एंकर रोहित रंजन ने अपने प्राइमटाइम के शो में राहुल गांधी से संबंधित एक फेक न्यूज़ चला दी थी। जिसके बाद उन्होंने माफी मांगते हुए कहा था कि, ‘हमारे शो डीएनए में राहुल गांधी का बयान उदयपुर की घटना से जोड़कर गलत संदर्भ में चल गया था। यह एक मानवीय भूल थी, जिसके लिए हमारी टीम क्षमा प्रार्थी है।’ उनकी माफी के बाद ही कई राज्यों में उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई।

जानकारी के लिए बता दें कि ऑल्ट न्यूज के सह संस्थापक को 2018 में हिंदू देवी देवता को लेकर एक आपत्तिजनक ट्वीट करने के मसले में गिरफ्तार किया गया है। उनको लेकर भी सोशल मीडिया पर लोग कई तरह के कमेंट कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें -: लश्कर आतंकी तालिब हुसैन ने किए चौंकाने वाले खुलासे, बोला- BJP की कई जानकारी…

ये भी पढ़ें -: महेंद्र सिंह धोनी ने लंदन में मनाया अपना जन्मदिन, देखें वीडियो


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-