Politics

चिराग पासवान बोले- बिहार में BJP के पास न तो विजन है और न ही नेता

20220821 121207 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

बिहार में लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने साफ कर दिया है कि अब वह फिर से एनडीए में लौटने को तैयार नहीं हैं। चिराग पासवान ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि राज्य में जेडीयू-आरजेडी गठबंधन की सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगी और 2025 से पहले मध्यावधि चुनाव होंगे। चिराग पासवान ने यह भी संभावना जताई कि आने वाले विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी एलजेपी अकेले नहीं लड़ेगी।

चिराग पासवान ने द हिन्दू को दिए इंटरव्यू के दौरान कहा, “पिछले कई वर्षों से भाजपा ने बिहार में जद (यू) के सहायक सहयोगी के रूप में काम किया है। अपनी चुनावी ताकत के बावजूद वे नीतीश कुमार के सामने झुक जाते हैं और उन्हें एक थाली में मुख्यमंत्री की कुर्सी भेंट करते हैं। क्यों? क्योंकि राज्य में भाजपा के पास न नेतृत्व है और न दूरदृष्टि!

ये भी पढ़ें -: बॉयफ्रेंड से शादी की जिद: नाराज पिता ने धड़ से अलग कर दी बेटी की गर्दन, नाले में फेंका सिर

चिराग पासवान ने हंसते हुए कहा कि मौसम वैज्ञानिक का बेटा हूं। उन्होंने कहा, “मेरी पार्टी गठबंधन में चुनाव लड़ेगी, लेकिन जब हम आएंगे तो हम पुल पार करेंगे। मैं मौसम विज्ञानिक का बेटा हूं इसलिए मैं कुछ चीजें देख सकता हूं।भविष्य की भविष्यवाणी करने में सक्षम होने के लिए अतीत को देखना चाहिए। पिछले आठ वर्षों में मुख्यमंत्री ने तीन बार अपने गठबंधन बदले हैं और इसलिए मैं वर्तमान को लंबे समय तक जीवित नहीं देखता। अगर 2024 के आम चुनावों तक बिहार में राजनीतिक समीकरण फिर से बदल जाते हैं तो मुझे आश्चर्य नहीं होगा।

पीएम मोदी के हनुमान वाली टिप्पणी पर चिराग पासवान ने कहा, “मोदी जी के साथ मेरा हमेशा भावनात्मक जुड़ाव रहेगा क्योंकि जब मेरे पिता की तबीयत खराब थी तो वे मेरे साथ खड़े थे। वह दिन में दो बार मुझे फोन करके उनका स्वास्थ्य और हमारा हालचाल पूछते थे। लेकिन मैं ‘हनुमान’ टिप्पणी के बारे में साफ कर दूं।

ये भी पढ़ें -: BJP के आरोपों पर न्यूयॉर्क टाइम्स बोला- दिल्ली के स्कूलों पर की ग्राउंड रिपोर्टिंग, विज्ञापन नहीं छापा

बिहार 2020 के चुनावों के प्रचार के दौरान जद (यू) के कुछ नेताओं ने शिकायत करना शुरू कर दिया कि मैं एनडीए से बाहर होने के बावजूद पीएम की तस्वीरों का उपयोग कर रहा था, जिस पर मैंने कहा कि मुझे उनकी तस्वीरें लगाने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि वह मेरे दिल में हैं। यही ‘हनुमान’ लेबल का मूल था।

एलजेपी में हुई टूट पर बोलते हुए चिराग पासवान ने कहा कि मैं बीजेपी से नाराज़ नहीं हूं। लेकिन मैं यह नहीं कहूंगा कि मेरे दिल बहुत बड़ा है और मैं सब कुछ भूल जाऊंगा और माफ कर दूंगा। उन्होंने कहा कि बेशक जब ये घटनाएं हुईं तो दुख हुआ। वे चाहते तो इससे बेहतर तरीके से निपट सकते थे, जो नहीं किया गया।

ये भी पढ़ें -: लाल सिंह चड्ढा के बायकॉट पर भड़के विजय देवरकोंडा, बोले- इससे सिर्फ आमिर ही नहीं बल्कि पूरी…

ये भी पढ़ें -: अक्षय ने मानी अपनी गलती, OTT पर कठपुतली की रिलीज से पहले बदले सुर-मुझे खुद को चेंज करना होगा

ये भी पढ़ें -: मानहानि केस में CM केजरीवाल और मनीष सिसोदिया को कोर्ट ने किया बरी, जानें पूरा मामला


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-