गौतम गंभीर बोले- हार्दिक से भी बेहतर कप्तान साबित हो सकता है यह खिलाड़ी, नाम सुनकर चौंक जाएंगे

गौतम गंभीर बोले- हार्दिक से भी बेहतर कप्तान साबित हो सकता है यह खिलाड़ी, नाम सुनकर चौंक जाएंगे
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद टीम की खूब आलोचना हुई। यहां तक कि कपिल देव जैसे पूर्व दिग्गजों ने कप्तान रोहित शर्मा तक पर निशाना साधा था। इसके बाद मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि 2024 टी20 वर्ल्ड कप के लिए बीसीसीआई अभी से ही तैयारी शुरू कर देगा। साथ ही सबसे छोटे फॉर्मेट के लिए नया कप्तान चुना जाएगा। बीसीसीआई ने साथ ही चेतन शर्मा की अगुआई वाली चयन समिति को भी बर्खास्त कर दिया था। बीसीसीआई ने नए चयनकर्ताओं को तीनों फॉर्मेट के लिए कप्तान चुनने का दायित्व सौंपा है।

मीडिया रिपोर्ट्स में भी यह दावा किया गया है कि रोहित शर्मा को वनडे और टेस्ट की कप्तानी सौंपी जा सकती है। वहीं, हार्दिक पांड्या को सबसे छोटे फॉर्मेट में कप्तान बनाया जाएगा। अब गौतम गंभीर ने कप्तानी के लिए एक और नाम सुझाया है। साथ ही उन्हें हार्दिक से भी बेहतर उम्मीदवार बताया है। गंभीर ने भारत को अंडर-19 विश्व कप जिताने वाले मुंबई के पृथ्वी शॉ का नाम सुझाया है। साथ ही यह बताया है कि क्यों पृथ्वी बेहतर कप्तान साबित हो सकते हैं।

गंभीर ने एक कार्यक्रम में कहा- हार्दिक पांड्या स्पष्ट रूप से लाइन में हैं, लेकिन यह रोहित के लिए दुर्भाग्यपूर्ण होने वाला है क्योंकि मुझे लगता है कि केवल एक आईसीसी इवेंट में उनकी कप्तानी को आंकना शायद सही तरीका नहीं है। गंभीर ने कहा कि युवा पृथ्वी शॉ भी भारतीय टीम का नेतृत्व करने के संभावित विकल्पों में से हैं।

ये भी पढ़ें -: स्वरा भास्कर ने किया ऋचा चड्ढा का समर्थन तो लोग करने लगे ऐसे-ऐसे कमेंट…

हालांकि, डोपिंग उल्लंघन और फिटनेस के मुद्दों से जूझने के लिए 2019 में निलंबित किए जाने के बाद यह बल्लेबाज लगातार भारतीय टीम का हिस्सा बनने में विफल रहा है। पृथ्वी शॉ पिछली बार जुलाई 2021 में भारत के लिए खेले थे। तब वह श्रीलंका दौरे के लिए चुनी गई टीम इंडिया का हिस्सा थे।

गंभीर ने कहा- मुझे पता है कि बहुत से लोग मैदान के बाहर उनकी गतिविधियों के बारे में बात करते हैं, लेकिन कोच और चयनकर्ताओं का काम यही है। चयनकर्ताओं का काम सिर्फ 15 को चुनना नहीं है, बल्कि लोगों को सही रास्ते पर लाना भी है। मैंने पृथ्वी शॉ को इसलिए चुना है। पृथ्वी शॉ एक बहुत ही आक्रामक और सफल कप्तान हो सकते हैं, क्योंकि आप उनकी आक्रामकता को उनके खेल में देख सकते हैं। पृथ्वी शॉ 2018 में राहुल द्रविड़ की देखरेख में अंडर-19 विश्व कप जीतने वाली टीम इंडिया के कप्तान रहे थे। साथ ही उन्हें रणजी में मुंबई की कप्तानी का भी अनुभव है।

वहीं, हार्दिक पांड्या की बात की जाए तो वह पहले कप्तानी के दावेदार नहीं थे। 2021 टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की हार के बाद हार्दिक को भारतीय टीम में भी शामिल नहीं किया गया था। इसके बाद आईपीएल 2022 के लिए हार्दिक को गुजरात टाइटंस का कप्तान बनाया गया। उनकी कप्तानी में गुजरात ने अपने पहले ही आईपीएल में ट्रॉफी जीती। इसके बाद से हार्दिक को कप्तान बनाने की मांग उठने लगी। इसके बाद आयरलैंड दौरे पर पहली बार हार्दिक को भारतीय टीम का कप्तान बनाया गया। वहां टीम इंडिया ने 2-0 से टी20 सीरीज अपने नाम की। वहीं, हाल ही में न्यूजीलैंड दौरे पर किसी बड़े नाम की गैरमौजूदगी के बावजूद भारत ने 1-0 से टी20 सीरीज अपने नाम की। ऐसे में वह टी20 में भारत के नए कप्तान नियुक्त किए जा सकते हैं।

ये भी पढ़ें -: रोहित शर्मा पर भड़के आकाश चोपड़ा, बोले- दुनियाभर के कप्तान खेल रहे हैं, हमारा कहां है?

ये भी पढ़ें -: Airtel के Prepaid यूजर्स को झटका, अब सिम एक्टिव रहने के लिए ज्यादा महंगा रिचार्ज प्लान लेना पड़ेगा


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-