Politics

गुलाम नबी आजाद बनाएंगे नई पार्टी, लोग कैप्टन अमरिंदर सिंह का जिक्र कर मारने लगे ताना

20220828 113046 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। कांग्रेस के नेताओं के लिए ये एक चौकाने वाली खबर थी। अब कांग्रेस के तमाम नेता गुलाम नबी आजाद पर तंज कस रहे हैं। वहीं गुलाम नबी आजाद ने नई पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया है। जैसे ही गुलाम नबी आजाद ने पार्टी बनाने का ऐलान किया तो लोगों ने कैप्टन अमरिंदर सिंह का जिक्र कर ताना मारना शुरू कर दिया!

अब चर्चा इस बात की हो रही है कि गुलाम नबी आजाद विधानसभा चुनाव लड़ेंगे और भाजपा के साथ मिलकर जम्मू कश्मीर में सरकार बनाएंगे। गुलाम नबी द्वारा नई पार्टी बनाने का ऐलान होने के बाद से ही लोग उन पर तंज कस रहे हैं और कैप्टन अमरिंदर सिंह की याद दिला रहे हैं! अमित यादव ने लिखा कि पूरा जीवन कांग्रेस के साथ निकल दिया, नाम दिया , इज्जत दी और अब ये भाजपा के साथ जाएंगे।

ये भी पढ़ें -: DM की क्लास में हेड मास्टर फेल, 4 से 441 को भाग नहीं कर पाईं मैडम, फिर हुआ ये…

वीरेंद्र मिश्रा नाम के यूजर ने लिखा कि पंजाब में जो दशा कैप्टन अमरिंदर सिंह जी की हुई थी, वही दशा गुलाम नबी जी की होगी। यह जनता जनार्दन एकदम से आजाद कर देगी गुलाम साहब को। ये पब्लिक है सब कुछ देख समझ रही है। नीतेश कुमार नाम के यूजर ने लिखा कि गुलाब नबी आजाद कांग्रेस से आजाद हो गए, ये मुख्य रूप से कश्मीर के राजनीत में किंग मेकर बनना चाहते हैं। पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी नई पार्टी बनाई, क्या रिजल्ट आया, सभी को मालूम है।

सलमान तुर्की नाम के यूजर ने लिखा कि अगर गुलाम नबी आज़ाद और उनके रिमोट कंट्रोल को लगता है कि उनके इस्तीफे से 4 सितंबर को होने जा रही कांग्रेस पार्टी की महंगाई पर हल्ला बोल रैली और 7 सितंबर को शुरू होने वाली भारत जोड़ो यात्रा अस्थिर हो जाएगी, तो वे बिलकुल गलत हैं।

ये भी पढ़ें -: AAP विधायक हाजी युनूस की कार पर हमला, ‘नशे में धुत’ युवकों ने परिवार को दी धमकी

सुभाष सैनी नाम के यूजर ने लिखा कि यह खिचड़ी कई महीने से पक रही थी, चुनाव में पहले से गठबंधन नहीं होगा। अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे, चुनाव के बाद मिलकर सरकार बनाएंगे। मनोज नाम के यूजर ने लिखा कि सारा खेल ही इसलिए खेला गया है कि साहब की कंपनी हर जगह अपनी सत्ता चाहती है।

बता दें कि 26 अगस्त को गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस से इस्तीफ दे दिया। 52 वर्षों तक कांग्रेस में रहने के बाद पांच पन्नों का इस्तीफा सोनिया गांधी को लिखा। जिसमें उन्होंने राहुल गांधी और पार्टी की नीतियों पर कई गंभीर सवाल खड़े किए। अब कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद पर सवाल उठा रहे हैं।

ये भी पढ़ें -: मुनव्वर फारूकी का शो कैंसिल होने पर भड़कीं महुआ मोइत्रा, दिल्ली पुलिस से पूछा ये सवाल

ये भी पढ़ें -: सोनाली फोगाट मामला: बाथरूम से मिला सिंथेटिक ड्रग, रेस्टोरेंट मालिक समेत इतने लोग गिरफ्तार

ये भी पढ़ें -: ADR की रिपोर्ट में खुलासा : अज्ञात स्रोतों से राजनीतिक दलों ने 15 हजार करोड़ से ज्यादा रुपये जुटाए


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-