Politics

क्या उमेश कोल्हे की हत्या करने वाले आरोपी ने राणा दंपत्ति के लिए किया था प्रचार ?

20220710 125330 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

अमरावती में केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या करने वाला मुख्य आरोपी इरफान के बारे में एक और नई जानकारी सामने आई है। हत्या के मुख्य आरोपी इरफान ने पिछले चुनाव में राणा दंपति के लिए प्रचार किया। उस वक्त वो भगवा झंडा लेकर चलता था। हालांकि राणा दंपति ने इन आरोपों को सिरे से खारिज किया है।

हत्यारोपी इरफान के पड़ोसियों ने एनडीटीवी को बताया कि चुनाव के दौरान राणा दंपति को इरफान ने मदद पहुंचायी थी। हालांकि पूरे घटनाक्रम पर राणा दंपति ने कहा है कि एक बात तो तय है कि वो हमारा कार्यकर्ता नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि कोई भी दोषी हो उसे सजा मिलनी चाहिए। मुख्य आरोपी इरफान के कई फेसबुक पोस्ट भी हैं, जिसमें उसने 2019 के चुनाव के दौरान कई बार नवनीत राणा की तारीफ के पोस्ट लिखे थे। इलाके के लोग और उनके दोस्त कहते हैं कि पिछले चुनाव में उन्होंने राणा परिवार के लिये खूब काम किया था।

ये भी पढ़ें -: श्रीलंका में प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति भवन पर किया कब्जा, देखें हालात…

इधर हत्या के आरोप इरफान पर लगे हैं, लेकिन सजा परिवार भुगत रहा है। एक अजीब सी खामोशी है, मां-बीवी को पता ही नहीं लग रहा है हुआ क्या है। एनडीटीवी से बात करते हुए विधायक रवि राणा ने कहा, ‘मैं उससे कभी नहीं मिला। न उसको पहचानता हूं, न उनके साथ मेरा कोई फोटो है, न किसी प्रकार से उनका मेरा संबंध है।

उन्होंने कहा कि ऐसे लोग किसी भी पार्टी में हों, उसका विरोध होना चाहिए। आज कांग्रेस ने विरोध क्यों नहीं किया। कोल्हे के परिवार को समर्थन क्यों नहीं दिया। उन्होंने कहा कि जब सांसद नवनीत राणा पीड़ित परिवार से मिलीं, उस परिवार की व्यथा सुनी। NIA से जांच कराने की मांग की, देश के गृह मंत्री से बात की। उन्होंने कहा कि लूट का केस बनाकर इसको दबाया जा रहा था।

ये भी पढ़ें -: श्रीलंका में आवास छोड़कर भागे राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे, देखें वीडियो

सांसद नवनीत राणा से जब पूछा गया कि आरोप लग रहा है कि आरोपी इरफान ने चुनाव के दौरान आपके लिए भी काम किया? इस सवाल के जवाब में नवनीत राणा ने कहा, ‘ जो उदयपुर में घटना हुई पूरे देश ने देखी। उसके पहले अमरावती की यह घटना है। उन्होंने कहा कि उदयपुर में जो घटना हुई वहां किसकी सरकार है और अमरावती में जब यह घटना हुई, तब किसकी सरकार थी। नवनीत कहा कि इरफान मेरा कार्यकर्ता नहीं है। अगर वो मेरा कार्यकर्ता होता तो मुझे लगता है कि मैं पीड़ित परिवार से जाकर नहीं मिलती।

उदयपुर की तरह पर महाराष्ट्र के अमरावती में केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या की जांच NIA कर रही है। इस घटना में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ सीरिया (ISIS) का भी हाथ माना जा रहा है।

ये भी पढ़ें -: देवेंद्र फडणवीस को नहीं मिलेगा गृह मंत्रालय जैसा अहम विभाग? इस नेता का नाम रेस में आगे

ये भी पढ़ें -: मोहम्मद जुबैर के Alt News को विदेशी चंदा मिलने पर पेमेंट फर्म Razorpay ने कही ये बात…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-