Sports

कीरोन पोलार्ड ने IPL से संन्यास लिया, अब नए रोल में दिखेंगे

20221115 191006 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर और आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए खेलने वाले कीरोन पोलार्ड ने भारत की सबसे बड़ी लीग से संन्यास का एलान कर दिया है। मुंबई इंडियंस ने ट्वीट कर इसकी पुष्टि की। पोलार्ड अपने पहले सीजन से ही मुंबई की टीम से जुड़े रहे और अब 13 साल के आईपीएल करियर के बाद संन्यास की घोषणा की है। इसी साल पोलार्ड ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से भी संन्यास लिया था। पोलार्ड 2010 से आईपीएल से जुड़े रहे हैं। उन्होंने लीग के 189 मैचों में 28.67 की औसत और 147.32 के स्ट्राइक रेट से 3412 रन बनाए। इसमें 16 अर्धशतक शामिल हैं। पोलार्ड ने बल्ले के दम पर मुंबई को कई मैचों में जीत दिलाई। इसके अलावा गेंदबाजी में भी उन्होंने अहम किरदार निभाया। पोलार्ड ने आईपीएल में कुल 69 विकेट लिए। 44 रन देकर चार विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा। आईपीएल में पोलार्ड की इकोनॉमी 8.79 की रही।

पोलार्ड ने अपना पहला आईपीएल मैच 17 मार्च 2010 को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अरुण जेटली स्टेडियम में खेला था। वहीं, आखिरी आईपीएल मैच उन्होंने नौ मई 202 को कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ डीवाई पाटिल स्टेडियम में खेला। पोलार्ड के लिए पिछला सीजन बेहद खराब रहा था। वह 11 मैचों में 14.40 की औसत और 107.46 के स्ट्राइक रेट से 144 रन ही बना सके थे। इस खराब प्रदर्शन की वजह से ऐसा कहा जा रहा था कि इस सीजन मुंबई इंडियंस की टीम उन्हें रिलीज कर सकती है। हालांकि, इससे पहले पोलार्ड ने संन्यास ले लिया।

पोलार्ड उन चुनिंदा खिलाड़ियों में से रहे हैं, जिसने आईपीएल के पूरे करियर में सिर्फ एक फ्रेंचाइजी के लिए खेला है। सिर्फ एक फ्रेंचाइजी के लिए 100 से ज्यादा आईपीएल मैच खेलने वालों में विराट कोहली (रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से 2008 से जुड़े), सुनील नरेन (कोलकाता नाइट राइडर्स से 2011 से जुड़े), जसप्रीत बुमराह (मुंबई इंडियंस से 2013 से जुड़े) और लासिथ मलिंगा शामिल हैं।

ये भी पढ़ें -: इरफान पठान ने बताया हार्दिक पांड्या को कप्तान बनाने में क्या है रिस्क, दी ये सलाह

पोलार्ड मुंबई के साथ पांच बार आईपीएल चैंपियन (2013, 2015, 2017, 2019, 2020) रह चुके हैं। साथ ही दो बार चैंपियंस लीग (2011, 2013) का खिताब भी जीत चुके हैं। पोलार्ड कई मौकों पर रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में मुंबई इंडियंस की कप्तानी भी कर चुके हैं। अब वह टीम के साथ एक नए रोल में दिखेंगे। मुंबई इंडियंस ने पोलार्ड को बैटिंग कोच नियुक्त किया है। वह अगले साल बतौर बैटिंग कोच टीम के साथ रहेंगे।

पोलार्ड ने संन्यास का एलान करते हुए कहा- यह आसान निर्णय नहीं रहा है, क्योंकि मैं कुछ और वर्षों तक खेलना चाहता था। पर मुंबई इंडियंस से बात करने के बाद मैंने करियर को खत्म करने का फैसला लिया। हालांकि, मैं समझता हूं कि इस फ्रेंचाइजी ने पिछले काफी समय में कई कामयाबियां हासिल की हैं और अब इस टीम को बदलाव की जरूरत है। अगर मैं मुंबई के लिए नहीं खेल सकता तो मैं खुद को मुंबई के खिलाफ खेलता भी नहीं देख सकता। मैं हमेशा मुंबई इंडियंस का ही रहूंगा।

पोलार्ड ने कहा- यह एक भावुक विदाई नहीं है, क्योंकि मैंने टीम के बैटिंग कोच का रोल निभाऊंगा। साथ ही एमआई एमिरात के लिए भी खेलता दिखूंगा। मेरे करियर का यह नया चैप्टर वाकई दिलचस्प है, क्योंकि मुझे एक खिलाड़ी से खुद को एक कोच के तौर पर बदलना है। मैं पिछले 13 सीजन से आईपीएल में सबसे बड़ी और सबसे सफल टीम का प्रतिनिधित्व करने के लिए बेहद गर्व, सम्मानित और धन्य महसूस कर रहा हूं।

पोलार्ड ने कहा- मैं मुकेश अंबानी, नीता अंबानी और आकाश अंबानी को उनकेप्यार, समर्थन और सम्मान के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं। जो मैंने हमेशा महसूस किया है कि उन्हें मुझपर काफी विश्वास है। मुझे हमारी पहली मुलाकात याद है जब उन्होंने मेरा स्वागत किया था और कहा था- हम परिवार हैं। यह मेरे लिए सिर्फ शब्द नहीं थे, बल्कि मुंबई से खेलते मेरी प्रतिक्रियाओं का हिस्सा बन गए थे।

ये भी पढ़ें -: इंग्लैंड के आदिल रशीद ने एक खास रिकॉर्ड अपने नाम किया, भारत के श्रीसंत भी कर चुके है ये कारनामा

ये भी पढ़ें -: मोहम्मद शमी और शोएब अख्तर की तकरार के बीच आए शाहिद अफरीदी, बोले- ऐसी चीजों से…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-