India

कन्हैयालाल के दोनों बेटों को मिली सरकारी नौकरी, जानें किस पद पर करेंगे काम

20220712 190518 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

राजस्थान के उदयपुर में हुए कन्हैया लाल हत्याकांड (Udaipur Kanhaiyalal Murder Case) में शामिल 7 आरोपियों में से 4 को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है. 3 को पुलिस रिमांड पर एनआईए को सौंपा गया है. NIA ने मंगलवार को सभी सातों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया. इसी बीच बड़ी खबर यह कि मृतक कन्हैयालाल के दोनों बेटों को सरकारी नौकरी के आदेश गहलोत सरकार की ओर से जारी कर दिए गए हैं.

तरुण और यश को कनिष्ठ सहायक पद पर नौकरी मिली है. राज्य सरकार ने नियमों में संशोधन कर दोनों के लिए नौकरी का प्रावधान किया था. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जब उदयपुर हत्याकांड के पीड़ित के परिजनों से मिलने आए थे, तब उन्होंने मृतक कन्हैयालाल के दोनों बेटों को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया था.

ये भी पढ़ें -: मुस्लिम युवक से शख्स ने जबरन लगवाए नारे, वीडियो वायरल हुआ तो पुलिस ने…

बाद में 6 जुलाई को कैबिनेट बैठक में दोनों बेटों को नौकरी देने को मंजूरी दी गई थी. नियमों में संशोधन को लेकर कैबिनेट ने अपनी मुहर लगाई थी. राज्य सरकार की ओर से 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद परिवार को प्रदान की गई थी.

टेलर कन्हैयालाल मर्डर केस को लेकर बीजेपी और कांग्रेस में वार-पलटवार अभी भी जारी है. अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर बड़ा हमला बोलते हुए आरोप लगाया है कि आरोपियों को पहले भी बीजेपी नेताओं ने बचाने का प्रयास किया था. सीएम गहलोत ने कहा कि जिस मकान में अभियुक्त किराये पर रहते थे, वो भी मुस्लिम का था.

ये भी पढ़ें -: प्रयागराज में #ByeByeModi का पोस्टर लगाने वाले 5 गिरफ्तार, पुलिस ने किया ये दावा…

मुस्लिम मकान मालिक ने उदयपुर घटना के आरोपियों के खिलाफ पूर्व में शिकायत दी थी कि वो उसे तंग करते हैं, धमकाते है और किराया नहीं दे रहे हैं. सीएम गहलोत ने कहा, “इस मामले में पुलिस कार्रवाई करती उससे पहले ही थाने में बीजेपी नेताओं के फोन चले गए थे कि यह हमारा कार्यकर्ता है, परेशान ना किया जाए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह जगजाहिर हो चुका है कि आरोपियों के साथ किन लोगों के संबंध थे. ऐसे में अब बीजेपी नेताओं को जवाब देकर स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए.

ये भी पढ़ें -: सुधीर चौधरी ने किया आजतक जॉइन तो लोग बोले- अब नोटों में चिप की खोज करने वाले एक ही ग्रुप में

ये भी पढ़ें -: योगी के बयान पर बोले नकवी- जनसंख्या विस्फोट किसी मजहब की नहीं, इसे जाति और धर्म से…

ये भी पढ़ें -: राष्ट्रपति चुनाव के लिए शिवसेना का बड़ा फैसला! इस उम्मीदवार को समर्थन देगी पार्टी


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-