एक और श्रीकांत त्यागी? बनारस में सोसायटी की महिलायें BJP नेता से परेशान, औरतों का पीछा करने का आरोप

एक और श्रीकांत त्यागी? बनारस में सोसायटी की महिलायें BJP नेता से परेशान, औरतों का पीछा करने का आरोप
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

नोएडा (Noida) के ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी (Grand Omaxe Society) में श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) का मामला इन दिनों सुर्खियों में है. ये मामला अभी चल ही रहा है कि वाराणसी (Varanasi) में इसी तरह का एक मामला सामने आ गया है. वाराणसी के कैंट क्षेत्र में वरुणा एन्क्लेव सोसायटी (Varuna Enclave Society varanasi) की महिलाएं कई दिनों से प्रदर्शन कर रही हैं. महिलाओं का आरोप है कि सोसायटी में रह रहे भाजपा जिलाउपाध्यक्ष अखंड सिंह ने सोसायटी में अवैध रूप से कब्जा किया हुआ है. महिलाओं का कहना है कि अखंड सिंह ने जमीन पर अवैध कब्जा कर वहां अपना ऑफिस बना लिया है.

आजतक से जुड़े रोशन के मुताबिक, सोसायटी के बाहर प्रदर्शन कर रही महिलाओं का कहना है कि जहां अखंड सिंह ने अपना ऑफिस बनाया है, वहां कभी सोसायटी का गेट हुआ करता था. महिलाओं का आरोप है कि कुछ समय पहले सोसायटी के बाहर सड़क का चौड़ीकरण हुआ था, जिसके चलते सोसायटी की बाउंड्री पीछे की गई. इसी दौरान गेट के पास कुछ जगह पर भाजपा नेता ने अवैध कब्जा कर अपना निजी ऑफिस बना डाला.

ये भी पढ़ें -: बिहार में NDA खत्म, मंगलवार को हो जाएगा ऐलान, लेकिन असली खेल अभी बाकी है

प्रदर्शन करने वाली डॉ. मीना सिंह ने कहा, “2019 में सड़क के चौड़ीकरण के चलते कॉलोनी की बाउंड्री तोड़ी गई. बाउंड्री बनाने के लिए सोसायटी के सभी लोगों ने 20-20 हजार रुपए जुटाए. लेकिन जब बाउंड्री बन गई तो अखंड सिंह ने अंदर पार्टीशन कर दिया. साथ ही कहा कि यह सरकारी जमीन है. पहले अखंड सिंह ने बरगलाया था कि जमीन पर सोसायटी के लिए सुलभ शौचालय बनेगा, लेकिन बाद में उन्होंने अपना ऑफिस बना दिया. सोसायटी की जमीन को अपना बताते हुए निजी ऑफिस बना दिया है.

प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने ये भी बताया कि अखंड सिंह महिलाओं का पीछा भी करवाते हैं. सोसायटी की महिलाएं इससे तंग आ गई हैं. अब उनका बाहर निकलना मुश्किल होता जा रहा है. सोसायटी की ही कल्पना ने बताया, “यहां के लोगों को डराया-धमकाया जा रहा है. हम लोग स्थानीय पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों, स्थानीय भाजपा विधायक और मंत्री रवींद्र जायसवाल के अलावा सीएम से भी शिकायत कर चुके हैं. लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. उस जमीन का माप 1080 स्क्वायर फीट है, जिस पर अखंड सिंह ने कब्जा कर रखा है.

ये भी पढ़ें -: फरमानी नाज से नाराज हर हर शंभू के राइटर, बोले- माफी मांगे वरना लेंगे एक्शन

आजतक के रोशन जायसवाल के मुताबिक इलाके के भाजपा पार्षद दिनेश यादव ने भी माना कि कब्जा किया गया है. उन्होंने बताया, “पहले कॉलोनी के बाहर की सड़क संकरी थी, लेकिन चौड़ीकरण का काम हुआ. सोसायटी के लोगों ने बाउंड्री कराई. जिसके बाद सोसायटी में रहने वाले अखंड सिंह द्वारा कब्जे की खबरें आने लगीं. सोसायटी के जिस हिस्से में कब्जा हुआ है, वहां पहले कभी गेट और गार्ड रूम हुआ करता था.

बीजेपी नेता अखंड सिंह से जब इस मामले में जवाब मांगा गया तो उन्होंने मीडिया के सामने कुछ भी बोलने से मना कर दिया. हालांकि, अखंड सिंह के बेटे शुभम सिंह ने आजतक से बात की. उन्होंने बताया कि जिस जमीन को लेकर विवाद है, वह आबादी की जमीन है. जिस पर वो 20 वर्षों से काबिज हैं. इसलिए आबादी की जमीन उनकी ही है. शुभम सिंह के मुताबिक जिस जमीन पर उन्होंने ऑफिस बनवाया है वह सोसायटी के नक्शे में नहीं आती है.

ये भी पढ़ें -: शुभेंदु अधिकारी बोले- बंगाल में राष्ट्रवादी सरकार के बनते ही स्कूलों में पढ़ाई जाएगी गीता

ये भी पढ़ें -: स्मृति इरानी ने गूगल से सिली सोल्स कैफे से जुड़ा कंटेंट हटाने के लिए कहा, गूगल ने मांगे लिंक


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-