उल्टा फहरा दिया तिरंगा, BJP नेता पर राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का केस दर्ज

उल्टा फहरा दिया तिरंगा, BJP नेता पर राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का केस दर्ज
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

BJP Leader Insult National Flag: लक्ष्यद्वीप में भारतीय जनता पार्टी के नेता पर राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का मामला दर्ज किया गया है। बीजेपी नेता पर राष्ट्रीय ध्वज को उल्टा फहराने का आरोप है। मंगलवार(16 अगस्त) को कावारत्ती पुलिस ने लक्षद्वीप में बीजेपी के महासचिव मोहम्मद कासिम एचके के खिलाफ कथित तौर पर राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करने का मामला दर्ज किया है।

इतना ही नहीं बीजेपी ने नेता इस उल्टे ध्वज को फहराने की फोटो सोशल मीडिया पर अपनी पत्नी के साथ शेयर की है। इस तस्वीर में राष्ट्र ध्वज का निचला हिस्सा ऊपर की ओर था। पुलिस ने इस पोस्ट को संज्ञान में लेते हुए बीजेपी नेता को नोटिस देकर पेश होने की बात कही है। नोटिस में लिखा है,”सीआरपीसी की धारा 41-ए की उप-धारा (1) के तहत दी गई शक्ति का प्रयोग करते हुए, मैं आपको सूचित करता हूं कि आप एक ऐसे अपराध के आरोपी हैं, जिसे कावारत्ती पुलिस स्टेशन में धारा 2 के तहत दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़ें -: बिहार में ‘चप्पल-जूता’ पॉलिटिक्स: BJP ने नीतीश का दिखाया चप्पल तो JDU ने राजनाथ सिंह का जूता दिखा दिया

14 अगस्त को राष्ट्रीय सम्मान अधिनियम 1971 का अपमान के मामले में पूछताछ के लिए आपको 25 अगस्त को सुबह 10:30 बजे लक्षद्वीप के कावारत्ती पुलिस स्टेशन में पेश होने का निर्देश दिया जाता है। कृपया ध्यान दें कि इस आदेश का पालन न करना और इनकार करना U/s 174 IPC के तहत दंडनीय है।

यूपी में इस बार स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्र ध्वज को लेकर खास तौर पर निगरानी की जा रही थी। कोई भी तिरंगे का अपमान न करने पाए इस बात को लेकर प्रशासन पहले से ही तैयार था। खास तौर पर इंटरनेट के माध्यम से और सोशल मीडिया पर इस बात को संज्ञान में लेकर देखा जा रहा था कि कहीं पर राष्ट्र ध्वज के अपमान का मामला तो नहीं आ रहा है। इस दौरान अगर कोई भ्रामक या आपत्तिजनक मैसेज भी राष्ट्र ध्वज को लेकर करता है तो उसके खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी।

ये भी पढ़ें -: बिलिकिस बानो के परिवार ने 11 दोषियों की रिहाई पर जताई हैरानी- हमें इस बारे में नहीं बताया गया…

यूपी के एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने पहले से ही निर्देश जारी कर दिए थे। उन्होंने कहा था राज्य में सही तरीके से राष्ट्र ध्वज फहराने और उसके सम्मान के बारे में जनता को जागरुक किया जाएगा और तिरंगे का अपमान करने वाले लोगों के खिलाफ तुरंत कठोर कार्यवाही की जाएगी। तिरंगे को किस तरह फहराने से सम्मान होगा और किस तरह से अपमान इसके लिए भी कुछ जरूरी निर्देश दिए गए थे।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों और महत्वपूर्ण राष्ट्रीय आयोजन के मौकों पर कई बार कागज का तिरंगा हाथ में लेकर फहराया जाता है लेकिन कार्यक्रम खत्म होने पर इस तिरंगे को फेंका नहीं जाना चाहिए ये राष्ट्र ध्वज का अपमान है। इसके अलावा किसी व्यक्ति या वस्तु के अभिवादन में राष्ट्रीय ध्वज को झुकाना, किसी जगह को राष्ट्र ध्वज से ढका जाना, राष्ट्र ध्वज का झुके हुए अवस्था में फहराना, राष्ट्र ध्वज को कमर के नीचे प्रयोग करना भी उसका अपमान माना जाता है।

ये भी पढ़ें -: ‘लाल सिंह चड्ढा’ की असफलता पर आमिर खान ने उठाया बड़ा क़दम, पढ़ें विस्तार से…

ये भी पढ़ें -: शिवमोगा तनाव पर BJP नेता की धमकी- हिन्दू समाज एकजुट हो गए तो वे जिंदा नहीं बचेंगे…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-