Entertainment

आमिर खान पर भड़के मुकेश खन्ना, बोले- PK में हिंदू धर्म का मजाक उड़ाया था, दंड देना जरूरी है

20220818 142507 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

आमिर खान की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ को लेकर हो रहे बहिष्कार के बीच ‘शक्तिमान’ फेम मुकेश खन्ना बयान सामने आया है। उन्होंने फिल्म के बहिष्कार समर्थन नहीं किया है, लेकिन उनका कहना है कि को सोशल मीडिया पर चल रहा ये मूवमेंट जायज है। मुकेश खन्ना का कहना है कि आमिर खान ने कुछ साल पहले कहा था कि उन्हें इस देश में सुरक्षित नहीं महसूस होता, उसके बाद भारत की जनता का उनकी फिल्म के प्रति गुस्सा जायज है। उन्होंने कहा कि इन्हें सीख देने के लिए दंड देना जरूरी है, जब तक दंड नहीं दिया जाएगा, हमारा समाज सुधरेगा नहीं।

मुकेश खन्ना ने कहा कि आमिर खान ने बहुत बचकानी बात कह दी थी। अगर आपकी पत्नी ने आपसे कुछ कहा था तो आपको वो बेडरूम की बात अपने तक ही रखनी चाहिए थी। क्यों आपने कहा था कि आप सेफ नहीं महसूस करते। इसपर लोगों ने कहा था कि सेफ नहीं फील करते तो जाइए न, जाकर पाकिस्तान में रहिए न।

ये भी पढ़ें -: KRK बोले- जब मैंने आमिर को हरा दिया तो शाहरुख खान क्या चीज है, पठान फिल्म पर कही ये बात

एक्टर ने कहा, ”जायज है, रिएक्शन जायज है। रिएक्शन अबनॉर्मल नहीं है। मैं हमेशा कहता हूं कि फिल्म को देखे बगैर उसका बहिष्कार मत करो, लेकिन सिचुएशन ऐसी हो तो… माफ करना मैं देख रहा हूं महसूस कर रहा हूं। हमारा हिंदू समाज पहले कुछ नहीं बोलता था, लेकिन हिंदू समाज जागरूक हो रहा है। लोग करते हैं हिंदू जाग रहा है। ये बहुत अच्छी बात है, हमने कभी भी अपने धर्म को गंभीरता से नहीं लिया। अगर उन्हें नजर आता है तो वो ऐसे लोगों का विरोध कर रहे हैं जिनका कभी विरोध नहीं करते थे, तो लोगों को हैरानी होती है। दूसरे धर्म के लोगों को लगता है कि हिंदू सांप्रदायिक क्यों हो रहा है।

हिंदू करे तो सांप्रदायिक, दूसरा धर्मा करे तो वो सांप्रदायिक नहीं। हिंदू करे तो वो कट्टरता और दूसरा धर्म करे तो कट्टरता नहीं। ये तो कोई इंसाफ नहीं हुआ, ये तो कोई लॉजिक नहीं हुआ। एक्टर ने कहा कि वैसे तो ठीक नहीं है करोड़ों की बनी फिल्म का विरोध करना वो भी बिना फिल्म का फ्रेम देखे। पहले भी इस तरह का विरोध हुआ है, लेकिन यहां सोशल मीडिया पर खड़े हो गए हैं लोग इस फिल्म का बायकॉट करने के लिए।

ये भी पढ़ें -: तो ऐसा खाना खाते हैं सिपाही: मेस के खाने में कच्ची रोटी औऱ दाल का हाल देख एसपी साहब हुवे…

मुकेश खन्ना ने कहा कि मैं उस हद तक इस मूवमेंट को सपोर्ट करूंगा, मैंने इसे लेकर कोई बात नहीं उठाई। लेकिन अगर हिंदू इनके खिलाफ ऐसा करता है तो ये एक अच्छा सिग्नल है। क्योंकि इन लोगों को ऐसी बातें करने से परहेज रखना चाहिए। जब तक आप दंड नहीं दोगे, अपराधी अपराध नहीं छोड़ेगा।

मुकेश ने कहा कि आमिर खान ने फिल्म पीके में भी हमारे हिंदू देवी-देवताओं का अपमान किया था। वहां भी लोगों ने बातें उठाई थी, लेकिन फिल्म को हिट कर दिया गया था। तो ये लोग समझते हैं कि ऐसी बात से हमे फर्क नहीं पड़ता। इन्हें लगता है कि ये लोग बोलेंगे और चुप हो जाएंगे। लेकिन अगर बोलेंगे और इन्हें रोक देंगे तो इन्हें समझ आएगा कि ऐसी हरकते आगे मत करें।

ये भी पढ़ें -: सुब्रमण्‍यम स्‍वामी बोले- पार्टी में कोई चुनाव नहीं, मोदी की मंजूरी से मनोनीत होते हैं सदस्य

ये भी पढ़ें -: रोहिंग्या मामले में हरदीप पुरी पर बरसे BJP के पूर्व सांसद, मोदी से की कैबिनेट से बाहर करने की मांग औऱ…

ये भी पढ़ें -: दोषियों की रिहाई पर बिलकिस बानो ने बयां किया अपना दर्द, बोली- उठ गया न्याय व्यवस्था से विश्वास


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-