Politics

आदित्य ठाकरे बोले- सभी के लिए शिवसेना के दरवाजे खुले पर बागियों को नहीं लेंगे वापस

20220626 194157 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक संकट के बीच राज्य सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे रविवार (26 जून 2022) को मुंबई के कलिना, सांताक्रूज में पार्टी कार्यकर्ताओं के कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान आदित्य ठाकरे ने कहा कि जो लोग छोड़ना चाहते हैं और जो पार्टी में लौटना चाहते हैं, उनके लिए शिवसेना के दरवाजे खुले हैं। पर जो बागी विधायक हैं वो देशद्रोही हैं, उन्हें पार्टी में वापस नहीं लिया जाएगा।

बागी विधायकों को देशद्रोही बताते हुए सीएम उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ने शनिवार को एकनाथ शिंदे गुट को शिवसेना की गंदगी बताया था। युवा सेना द्वारा मुंबई में आयोजित पार्टी कार्यकर्ताओं की रैली में आदित्य ठाकरे ने कहा कि जिन विधायकों ने बगावत की है, वे कभी हमारे नहीं थे। पार्टी की गंदगी चली गई, अब जो होगा अच्छे के लिए होगा।

ये भी पढ़ें -: एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस की मुलाकात, क्या महाराष्ट्र में सरकार बनाने की तैयारी में BJP?

उन्होंने कहा कि यह बगावत विपक्षी दल के कारण नहीं हो रही है, बल्कि हमारे अपने लोगों ने हमें धोखा दिया है। बागी विधायकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई: वहीं, दूसरी ओर बागी विधायकों के बारे में बात करते हुए शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने रविवार को बताया कि पार्टी ने कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है और संबंधित विधायकों को नोटिस दिया गया है।

पत्रकारों को संबोधित करते हुए सावंत ने कहा, “महाराष्ट्र में राजनीतिक उथल-पुथल चल रही है, कई विधायक दलबदल कर असम चले गए हैं। हमने उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है और अब तक 16 विधायकों को नोटिस दिया गया है। शिवसेना के वरिष्ठ वकील देवदत्त कामत ने बताया, “दो-तिहाई की अवधारणा केवल विलय होने पर ही लागू होती है। जब तक विधायक किसी दूसरी पार्टी में विलय नहीं करते, अयोग्यता लागू होती है। अभी तक विलय नहीं हुआ है, उन्होंने स्वेच्छा से सदस्यता छोड़ी है।

ये भी पढ़ें -: शिंदे पर उद्धव ठाकरे पर बड़ा वार- हिम्मत है तो खुद के बाप के नाम पर वोट मांगे, बालासाहेब के नाम पर नहीं

उन्होंने कहा, “संविधान के तहत, स्पीकर की अनुपस्थिति में उपाध्यक्ष के पास शक्ति होती है कि वह ऐसे मामलों पर निर्णय ले सके। विद्रोहियों ने अनधिकृत ईमेल के जरिए अविश्वास प्रस्ताव भेजा था।

एकनाथ शिंदे गुट की बैठक: न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक, गुवाहाटी में रविवार को एकनाथ शिंदे गुट की बैठक हुई। इस मीटिंग एकनाथ शिंदे ने सभी को आश्वासन दिया कि सभी विधायकों के परिवारों को केंद्रीय सुरक्षा दी जाएगी। इसके साथ ही सुरक्षित मुंबई कैसे पहुंचे, अगले 2 दिनों में सरकार बनाने का दावा पेश करने और कानूनी पहलुओं पर भी चर्चा हुई।

ये भी पढ़ें -: बागी विधायकों पर संजय राउत का तंज- कब तक छिपोगे गुवाहाटी में, आना पड़ेगा चौपाटी में

ये भी पढ़ें -: R Madhavan बोले- रॉकेट लॉन्च के लिए ‘ISRO’ ने हिंदू कैलेंडर पंचांग से ली मदद, हुए ट्रोल


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-