अब उलेमा बोर्ड ने किया पठान फिल्म का बायकॉट, कहा- इस्लाम का मजाक नहीं उड़ाने देंगे, लगाया ये आरोप…

अब उलेमा बोर्ड ने किया पठान फिल्म का बायकॉट, कहा- इस्लाम का मजाक नहीं उड़ाने देंगे, लगाया ये आरोप…
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Pathan Controversy: शाहरुख खान और दीपिका पादुकोण की फिल्म ‘पठान’ पर विवाद बढ़ता ही जा रहा है. फिल्म के बेशर्म रंग गाने पर एक तरफ हिंदू संगठन अपना गुस्सा निकाल रहे हैं, तो वहीं मध्य प्रदेश में अब उलेमा बोर्ड ने भी फिल्म पर अपनी नाराजगी जताई है. मध्य प्रदेश उलेमा बोर्ड ने पठान फिल्म का बायकॉट करते हुए इसे रिलीज ना करने की मांग की है.

मध्य प्रदेश उलेमा बोर्ड के अध्यक्ष सैयद अनस अली ने कहा- एक फिल्म पठान नाम से बनी है, जिसमें शाहरुख खान एक हीरो हैं, लोग उन्हें देखते हैं, पसंद करते हैं. लेकिन हमारे पास कई जगह से फोन और शिकायतें आई हैं और उन्होंने गुस्से का इजहार किया है कि इस फिल्म के अंदर अश्लीलता फैलाई गई है और इसमें इस्लाम का गलत प्रचार प्रसार किया गया है. उन्होंने आगे कहा- इसी फिल्म को लेकर ऑल इंडिया मुस्लिम त्योहार कमेटी ने एक स्टैंड लिया है और इस फिल्म का बायकॉट किया है. हम भी हुकूमत के लोगों से, जवानों से अपील करते हैं कि इस फिल्म को ना देखें. उन्होंने कहा है कि इस फिल्म को रिलीज नहीं होना चाहिए. तो ऑल इंडिया उलेमा बोर्ड भी इसकी ताकीद करता है और उनके साथ खड़ा है.

अली ने कहा, ‘यह हमारा हक है कि हमारे इस्लाम को, हमारे मजहब को इस तरह से कोई पेश करेगा तो इस पर हम कोई समझौता नहीं करेंगे. कोई इस्लाम को गलत तरीके से पेश करेगा तो यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम हमारे मजहब का सही तरीका पेश कराएं.

ये भी पढ़ें -: पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी संसद में बोले- भारत में पेट्रोल की कीमत दूसरे देशों की तुलना में सबसे कम

सैयद अनस अली ने आगे कहा- मैं सेंसर बोर्ड से पुरजोर अपील करता हूं और तमाम भारत के थिएटर वालों से कहना चाहता हूं कि यह फिल्म कहीं लगने ना दें आप, क्योंकि इससे एक गलत मैसेज जाएगा, शांति भंग होगी और इस मुल्क के अंदर जितने मुसलमान हैं उन सब की भावनाएं आहत होंगी और हमारा मजाक बनाया जाएगा. मैं अपील करता हूं सभी से कि यह फिल्म बिल्कुल ना देखें.

अपना नाम शाहरुख खान कहते हैं और शाहरुख खान कहकर पठान फिल्म बनाते हैं. इस्लाम का, मुसलमानों का मजाक बनाने के लिए ऐसे फिल्म बनाते हैं, इनका भी विरोध होना चाहिए. पठान एक बेहद सम्मानित बिरादरी है, लेकिन फिल्म में उसे बेहद गलत तरीके से पेश किया गया है. एमपी उलेमा बोर्ड के अध्यक्ष सैयद अनस अली ने इसके साथ ही हज कमेटी से सिफारिश की है कि वो शाहरुख खान को आगे से उमरा पर जाने के लिए भी वीजा ना दें.

शाहरुख खान और दीपिका पादुकोण की फिल्म पठान 25 जनवरी 2023 को रिलीज होने वाली है. लेकिन फिल्म का पहला गाना बेशर्म रंग सामने आते ही फिल्म पर हंगामा शुरू हो गया है. हिंदू संगठनों के बाद पठान फिल्म का मुस्लिम संगठनों ने भी किया विरोध करना शुरू कर दिया है. फिल्म को लेकर सोशल मीडिया पर बायकॉट ट्रेंड भी चल रहा है. अब इन विवादों का फिल्म की कमाई पर कितना असर पड़ता है, ये देखने वाली बात होगी.

ये भी पढ़ें -: नरोत्तम मिश्रा बोले- लव जिहाद की जांच के लिए कपल को शादी से पहले करवाना होगा पुलिस वेरिफिकेशन

ये भी पढ़ें -: श्रद्धा वालकर से तुलना करने पर भड़कीं देवोलीना, ट्रोलर्स को दिया करारा जवाब, बोलीं- ‘कहीं आप ही फ्रिज…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-